अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बोकारो स्टील प्लांट में इस्पातकर्मियों व ठेका मजदूरों के हड़ताल से करोड़ों का नुकसान

बोकारो:- स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (सेल) प्रबंधन से श्रमिक संगठनों की कई दौर की वार्ता विफल होने के बाद बोकारो इस्पात संयंत्र में कार्यरत कर्मचारियों और मजदूरों ने आज उत्पादन ठप्प कर दिया। संयुक्त ट्रेड यूनियन के आह्वान पर वेतन पुनरीक्षण और ठेका श्रमिकों की विभिन्न मांगों को लेकर एकदिवसीय हड़ताल से करोड़ों रुपये के नुकसान का अनुमान लगाया जा रहा है। हड़ताल के समर्थन में इस्पातकर्मियों और ठेका मजदूरों की ओर से प्रबंधन के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की गयी। इस बीच संयंत्र के सुरक्षा में तैनात सीआईएसएफ जवानों और हड़ताली कर्मियों के बीच कई जगह कहासुनी भी हुई। श्रमिक नेता बीके चौधरी ने बताया कि इस्पात कर्मियों का वर्ष 2017 से वेतन पुनरीक्षण बकाया है। उन्होंने यह भी चेतावनी दी कि सेल प्रबंधन अभी भी इस्पात कर्मी और ठेका मजदूरों के हक में निर्णय नहीं लेता है तो आने वाले दिनों में तीन दिवसीय हड़ताल के लिए बाध्य होना पड़ेगा। चौधरी ने बताया कि इस एक दिन के हड़ताल का अगले तीन-चार दिनों तक संयंत्र के उत्पादन पर प्रभाव पड़ेगा। उन्होंने दावा किया कि बोकारो स्टील प्लांट को इस हड़ताल से हजारों करोड़ रुपए का नुकसान होगा।

%d bloggers like this: