अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

पीएम रोजगार सृजन के तहत मिलेगा 25लाख तक लोन


चाईबासा:- पश्चिमी सिंहभूम जिला उद्योग केंद्र-चाईबासा के महाप्रबंधक शंभू शरण बैठा के द्वारा बताया गया कि प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के अंतर्गत बेरोजगार पुरुष तथा महिला जिनकी आयु न्यूनतम 18 वर्ष है को योजना के तहत प्रस्तावित विनिर्माण, सेवा, उद्योग हेतु अधिकतम 25,00,000 रुपए तक का ऋण दिए जाने का प्रावधान किया गया है। उन्होंने बताया कि इसके तहत विशेष श्रेणी यथा अनुसूचित जाति,जनजाति,अन्य पि.वर्ग,अल्पसंख्यक,महिला,पूर्व सैनिक शारीरिक रूप से विकलांग आदि लाभार्थी का अंशदान (परियोजना लागत में) 5प्रतिशत तथा सब्सिडी की दर (परियोजना लागत में) क्षेत्र परियोजना-इकाई की अवस्थिति शहरी क्षेत्र में 25प्रतिशत तथा ग्रामीण क्षेत्र में 35प्रतिशत और सामान्य श्रेणी के लाभार्थी हेतु अंशदान(परियोजना लागत में) 10प्रतिशततथा सब्सिडी दर (परियोजना लागत में) क्षेत्र परियोजना इकाई की अवस्थिति शहरी क्षेत्र में 15प्रतिशत तथा ग्रामीण क्षेत्र में 25प्रतिशत तय की गई है। योजना अंतर्गत प्रस्तावित परियोजना हेतु विनिर्माण-उद्योग क्षेत्र के अंतर्गत अधिकतम राशि 25,00,000 एवं सेवा क्षेत्र के उद्यम हेतु अधिकतम राशि 10,00,000 निर्धारित है।
महाप्रबंधक जिला उद्योग केंद्र के द्वारा बताया गया कि योजना के तहत लाभार्थी के लिए पात्रता की कुछ शर्ते हैं जैसे विनिर्माण क्षेत्र में 10,00,000 और सेवा क्षेत्र में 5,00,000 से अधिक लागत वाली परियोजना स्थापित करने हेतु लाभार्थी को न्यूनतम आठवीं कक्षा उत्तीर्ण होना अनिवार्य है। उक्त योजना अंतर्गत ऋण प्राप्त करने हेतु लाभार्थी को पासपोर्ट साइज फोटो सहित आधार कार्ड-जाति प्रमाण(यदि आवश्यक हो)-शैक्षणिक योग्यता(अधिकतम)-ई.डी.पी प्रशिक्षण प्रमाण पत्र-प्रस्तावित परियोजना यदि ग्रामीण क्षेत्र में स्थापित की जा रही है तो मुखिया, मुंडा का ग्रामीण प्रमाण पत्र आदि कि छाया प्रति संलग्न करना आवश्यक है। महाप्रबंधक ने बताया कि प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत जिला अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2021-22 में कुल 79 के आच्छादन का लक्ष्य प्राप्त है। जिसके आलोक में विगत अगस्त माह तक बैंकों को भेजे गए कुल 214 आवेदन के विरुद्ध बैंकों के द्वारा 104गुणा 86 लाख रुपए के 15 आवेदन स्वीकृत किए गए हैं तथा 25गुणा 50 लाख रुपए बैंकों के द्वारा 3 लाभुकों को भुगतान किया गया है।

%d bloggers like this: