अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

दो वर्षीय बी.एड व शिक्षा शास्त्री में नामांकन के लिए आवंटित महाविद्यालय की सूची जारी


दरभंगा:- सीईटी-बी.एड-2021 के लिए नामित नोडल विश्वविद्यालय ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय द्वारा दो वर्षीय बी.एड. एवं शिक्षा शास्त्री में नामांकन के लिए 18.09.2021 को अभ्यर्थियों की ओर से चयनित महाविद्यालय वरीयता के आधार, मेधा, आरक्षण एवं रोस्टर के तहत आवंटित महाविद्यालय की सूची डॉ. अवनि रंजन सिंह (सदस्य कोर कमिटि), डॉ. अशोक कुमार मेहता और डॉ. अरुण कुमार सिंह ने संयुक्त रूप से जारी किया। अभ्यर्थी 19.09.2021 से वेबसाइट www.bihar-cetbed-lnmu.in पर लॉग इन कर आवंटित महाविद्यालय को स्वीकार कर 19.09.2021 से 25.09.2021 तक 3000 रुपये अंश शुल्क के रूप में जमा कर दिनांक 22.09.2021 से 29.09.2021 तक आवंटित महाविद्यालय में पेपर सत्यापन के बाद नामांकन लें सकते हैं। कुलपति प्रो. सुरेंद्र प्रताप सिंह ने सफल अभ्यर्थियों को बधाई देते हुए कहा कि नामांकन के लिए आपके द्वारा चयनित महाविद्यालय/संस्थान में 2 वर्षीय बी.एड. पाठ्यक्रम के लिए आवंटित महाविद्यालय/संस्थानों की लिस्ट आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध है।
अभ्यर्थी प्रमाण-पत्रों/अभिलेखों की स्व-अभिप्रमाणित फोटो कॉपी (एक सेट) एवं मिलान के लिए सभी प्रमाण-पत्रों की मूल प्रति के साथ निर्धारित तिथि, समय एवं स्थान पर अनिवार्य रूप से उपस्थित होकर नामांकन की प्रक्रिया पूरी करें। राज्य नोडल पदाधिकारी प्रो. अशोक कुमार मेहता ने अभ्यर्थियों को सलाह देते हुए कहा कि काउंसिलिंग/नामांकन के लिए उपस्थित होने से पूर्व आश्वस्त हो लें कि वेबसाइट पर जो आवश्यक कागजात की सूची जारी है। उपरोक्त प्रमाण-पत्र/अभिलेख आपके साथ हैं की नहीं, अन्यथा आपकी उम्मीदवारी पर विचार नहीं किया जाएगा। सभी वर्णित प्रमाण-पत्रों के साथ निर्धारित स्थान, तिथि एवं समय पर यदि आप उपस्थित नहीं होते हैं तो आपका नामांकन का दावा स्वत: ही निरस्त हो जायेगा। अगर, अभ्यर्थी प्रथम चयन के आधार पर आवंटित महाविद्यालय/संस्थान में नामांकन नहीं लेते हैं तो दूसरी बार के काउंसिलिंग में महाविद्यालय/संस्थान के पूर्व आवंटन पर विचार नहीं किया जायेगा। साथ ही कहा कि पेपर सत्यापन के समय बी.एड महाविद्यालयों/संस्थानों में अभ्यर्थियों को किसी भी प्रकार की असुविधा न हो इसलिए नोडल विश्वविद्यालय ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय द्वारा महाविद्यालयों/संस्थानों के प्राचार्यों/विभागाध्यक्षों एवं तकनीकी सहायकों को ऑनलाइन प्रशिक्षण दिया गया है।

%d bloggers like this: