अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

जिम्मेदारी छोड़कर राजनीति कर रहे हैं सचिव और नगर आयुक्त : मेयर

रांची:- मेयर आशा लकड़ा ने कहा कि नगर विकास विभाग के सचिव और रांची नगर निगम के नगर आयुक्त अपनी जिम्मेदारी को छोड़कर सिर्फ और सिर्फ राजनीति कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि साफ-सफाई व सैनिटाइजेशन से संबंधित कार्यों की समीक्षा के लिए गुरुवार को वर्चुअल बैठक आहूत करने के लिए नगर आयुक्त को निर्देश दिया गया था। लेकिन, ठीक एक दिन पूर्व बुधवार को नगर विकास विभाग के सचिव वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग कर नगर आयुक्त को निर्देश दे रहे हैं कि मानसून के आगमन से पूर्व नालियों व बड़े नालों की सफाई कराएं। नगर आयुक्त भी आनन-फानन में देर शाम रिकार्डेड वीडियो क्लिप के साथ-साथ सफाई व सैनिटाइजेशन से संबंधित कार्यालय आदेश जारी कर दिए। लेकिन, उस कार्यालय आदेश की प्रति सिर्फ नगर विकास विभाग के सचिव को दी जा रही है। मेयर, डिप्टी मेयर सहित 53 वार्ड पार्षदों को इसकी सूचना तक नहीं दी गई। नगर आयुक्त के इस आचरण से स्पष्ट हो चुका है कि वे नगर विकास विभाग के सचिव के दिशा-निर्देशों को ही सर्वोपरि मान रहे हैं। उन्होंने कहा कि इससे पूर्व भी नगर आयुक्त ने नगर विकास विभाग के सचिव के निर्देश पर ‘चलो करें कोरोना को डाउन, रांची बनेगा नम्बर वन टाउन’ अभियान शुरू किया था। लेकिन, वार्ड-दो, तीन, चार, 32, 33, 34, 35, व 36 में निरीक्षण के दौरान यह बात सामने आई कि अभियान के नाम पर सिर्फ और सिर्फ आइवाश किया जा रहा है। नगर आयुक्त साफ-सफाई व सैनिटाइजेशन के नाम पर सिर्फ बड़ी-बड़ी बातें कर रहे हैं। अब बुधवार को फिर एक नया अभियान ‘सफाई तो होकर रहेगी’ शुरू किया है। मेयर ने यह भी कहा कि नगर आयुक्त जब से रांची नगर निगम में पदस्थापित हुए है, राजनीति के सिवाय कुछ नहीं किए। इनके कार्यकाल की कोई उपलब्धि भी नहीं है। अधिकारी होने के नाते इन्हें प्रोटोकॉल का पालन करना चाहिए, लेकिन नगर आयुक्त न तो मेयर के निर्देश का पालन करते हैं और न ही मेयर के पत्र का जवाब देते हैं। रांची नगर निगम में अब तक तीन नगर आयुक्त प्रशांत कुमार, शांतनु अग्रहरि व मनोज कुमार रहे, लेकिन उन्होंने किसी विषय पर मतभेद होने की स्थिति में उसका समाधान किया न कि राजनीति की।

%d bloggers like this: