May 16, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

सामूहिक सहयोग से कोविड-19 पर होगा नियंत्रणः उपायुक्त

मेदिनीनगर:- पलामू जिले में कोविड-19 के नियंत्रण के लिए निजी अस्पताल प्रबंधन आगे आने लगे हैं। इससे कोविड-19 संक्रमित मरीजों को इलाज में सुविधा होगी। मरीजों के लिए सहजता से बेड व ऑक्सीजन मिल सकेगा। महामारी के इस दौर में इलाज के लिए निजी अस्पतालों द्वारा खुद आगे आकर सेवा करने की सराहना भी होने लगी है। कोविड-19 संक्रमित व्यक्तियों के इलाज के लिए पलामू जिले में एक और नया अस्पताल मईयां-बाबू अस्पताल का नाम जुड़ गया है। इसके लिए अस्पताल प्रबंधन द्वारा खुद उपायुक्त व सिविल सर्जन को आवेदन सौंपा गया, जिसकी प्रशासनिक स्वीकृति प्रदान कर दी गई है। इसके बाद अब यहां भी कोविड-19 मरीजों को रखा जा सकेगा। पांकी रोड रेडमा में अवस्थित इस अस्पताल में 10 जेनरल बेड, 10 ऑक्सीजन बेड, 5 आईसीयू बेड, ओपीडी, आईपीडी आदि की सुविधा है। उपायुक्त शशि रंजन ने कहा कि सामूहिक सहयोग से पलामू में कोविड-19 संक्रमण के प्रसार पर नियंत्रण पाया जा सकेगा।
उप निर्वाचन पदाधिकारी-सह-हॉस्पिटल बेड मैनैजमेंट कमेटी के नोडल पदाधिकारी शैलेश कुमार सिंह की पहल पर मईंया-बाबू अस्पताल की निदेशक ने कोविड-19 के उपचार के लिए अस्पताल को उपयोग में लाने की अनुमति मांगी थी। निजी अस्पतालों में नवजीवन अस्पताल तुम्बागाड़ा, भगवती हॉस्पिटल, रांची रोड, एसएच हॉस्पिटल आबादगंज, जन विकास ट्रस्ट हॉस्पिटल लेस्लीगंज, संजीवनी हॉस्पिटल हरिहरगंज, नारायण मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल नवाटोली, लाइफ लाइन हॉस्पिटल मुस्लिम नगर, क्योर लाइफ सेंटर शाहपुर के बाद अब मईंया- बाबू अस्पताल भी कोविड-19 संक्रमित मरीजों के उपचार हेतु जुड़ गया है। इसके अलावा मेदिनीराय मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में कोविड-19 का इलाज चल रहा है। नोडल पदाधिकारी शैलेश कुमार सिंह ने अन्य निजी अस्पताल प्रबंधन से भी अपील किया है कि वे कोविड-19 के मरीजों के इलाज के लिए आगे आएं, ताकि पलामू जिले में कोविड संक्रमित मरीजों का और सहजता से इलाज में सहयोग मिल सके और पलामू में कोविड-19 की संक्रमण पर नियंत्रण पाया जा सके।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: