किसनगंज :- बहादुरगंज और टेढागाछ को सीधे जोड़ने के लिए निर्माणाधीन लौचा पुल का कार्य प्रगति पर है। लौचा हाट की ओर पुल के अंतिम पिलर का निर्माण कार्य चल रहा है। इसके साथ-साथ पिलरों के ऊपर छत और रैलिग के निर्माण कार्य में भी मजदूर दिन रात जुटे हैं। जबकि पुल के दूसरे छोर पर एप्रोच पथ भी बनकर कब

से ही तैयार है। बस एक पिलर की छत और रैलिग पूरा होने के बाद लौचा हाट की ओर भी एप्रोच का काम शुरू किया जाएगा। निर्माण कार्य प्रगति पर देख आम जनता इस बात का कयास लगा रही है कि इसी वर्ष 2019 तक पूल निर्माण का कार्य पूरा हो जाएगा ।

कनकई नदी पर बन रहे बहुचर्चित लौचा अधूरे पुल को पूर्ण रूप देने के लिए पांच पीलरों का निर्माण कार्य शुरू किया गया था। नदी किनारे तीन पीलर पूर्ण होने के बाद लौचा हाट पर दो पीलर का निर्माण कार्य प्रगति पर है। अब तक पुल पार करने का एक मात्र साधन नौका या चचरी ही था । नतीजा जानमाल का खरता हमेशा बना रहता था ।पुल निर्माण होने के बाद चचरी या नाव के सहारे नदी पार करने की विवशता नहीं होगी। ग्रामीणों का कहना है कि लौचा पुल के निर्माण से बहादुरगंज और टेढागाछ प्रखंड के लाखों की आबादी सीधे जिला मुख्यालय से जुड़ जाएंगे। गौरतलब हो कि लौचा पुल का निर्माण वित्तीय वर्ष 2010-11 में शुरू होकर वर्ष 2013-14 में पूर्ण होना था। लेकिन बीते वर्ष अधूरे कार्य को पूरा करने के लिए सरकार ने पर 53 करोड़ 58 लाख 70 हजार रुपये की तकनीकी स्वीकृति प्रदान की थी। जिसके पश्चात पुन: पुल का निर्माण कार्य की शुरू किया गया है ।

Leave a Reply

%d bloggers like this: