अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

जूनियर हॉकी खिलाड़ी संगीता कुमारी को रेलवे में मिली नियुक्ति



रांची:- जूनियर भारतीय महिला हॉकी टीम की सदस्य संगीता कुमारी को दक्षिण पूर्व रेलवे में नौकरी मिल गयी है। रांची रेल के मंडल रेल प्रबंधक प्रदीप गुप्ता ने शुक्रवार को संगीता कुमारी को नियुक्ति पत्र सौंपा।
संगीता को नियुति पत्र सौंपते हुए प्रदीप गुप्ता ने उसके बेहतर भविष्य की कामना की और यह उम्मीद जतायी कि स्थायी नौकरी मिल जाने के बाद अब वह खेल में पूरी तरह से ध्यान केंद्रित कर झारखंड और देश का नाम रौशन करेंगी।
संगीता कुमारी को दक्षिण पूर्व रेलवे, रांची मंडल के कार्मिक विभाग मे जूनियर क्लर्क के पद पर नियुक्त की गयी है । संगीता ने नियुक्ति पत्र लेने के बाद डीआरएम ऑफिस में अपनी उपस्थिति रजिस्टर में हस्ताक्षर किया और शनिवार दोपहर को वह बेंगलुरू में आयोजित होने वाली जूनियर भारतीय हॉकी टीम के प्रशिक्षण शिविर में शामिल होने के लिए रवाना होंगी। संगीता सिमडेगा जिले की रहने वाली है।

कई राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में किया प्रतिनिधित्व

संगीता कुमारी जनवरी 2021 मे चिली के सैंटियागो में आयोजित जूनियर महिला हॉकि टेस्ट चैंपियनशिप में जूनियर भारतीय महिला हॉकी टीम में शामिल थी। इसके अलावा बैंकॉक में आयोजित यूथ ऑलिंपिक क्वालिफायर, बेल्जियम में आयोजित अंडर-23 6वीं नेशनल इंविटेशन टूर 2018, 7 वां हॉकी इंडिया जूनियर नेशनल चैंपियनशिप 2017 एवं 8 वें हॉकि इंडिया जूनियर नेशनल चैंपियनशिप 2018 में अपने खेल कौशल का प्रदर्शन कर चुकी है । संगीता कुमारी सिमडेगा की रहने वाली हैं तथा टीम में फॉरवर्ड स्थान पर खेलती एवं वर्तमान में बैंगलोर, कर्नाटक में चल रहे जूनियर भारतीय महिला हॉकी टीम के कैम्प में शामिल है ।
इस अवसर पर वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक सह मंडल क्रीड़ा अधिकारी अवनीश, वरिष्ठ मंडल कार्मिक अधिकारी माणिक शंकर, भूतपूर्व अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी सुमराय टेटे , भूतपूर्व अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी एवं भारतीय महिला हॉकि टीम की पूर्व कप्तान असुंता लकड़ा एवं दक्षिण पूर्व रेल्वे खेल संघ रांची के समन्वयक प्रशांत मुखर्जी उपस्थित थे । मौके पर हॉकी झारखंड के पदाधिकारियों ने डीआरएम समेत तमाम पदाधिकारियों के प्रति आभार व्यक्त किया है। हॉकी झारखंड के पदाधिकारियों ने कहा कि रांची रेलवे ने हमेशा से ही ही उभरते ही खिलाड़ियों को स्थायी रोजगार देने काम किया है, जिसके फलस्वरूप ही उभरते हुए खिलाड़ियों के खेल में स्थावित्त्व आती है और वे बड़े स्तरो पर लंबे दिनो तक अपना खेल जारी रख पाते है।

%d bloggers like this: