April 11, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

न्यायिक पदाधिकारियों ने भी स्टेटस हॉकी स्टेडियम पहुंचकर खिलाड़ियों को किया प्रोत्साहित

सिमडेगा:- अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश एडीजे मधुरेश कुमार वर्मा एवम् मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी आनंदमणि त्रिपाठी मॉर्निंग वाक करते हुए पंहुचे हॉकी स्टेडियम- खिलाड़ियों से कहा वे भी बांस की स्टिक को रबड़ से बांध कर हॉकी खेला करता था पर आपलोंगो की तरह राष्ट्रीय खिलाड़ी नहीं बन पाया।
सिमडेगा मे पहली बार आयोजित ग्यारहवीं हॉकी इंडिया राष्ट्रीय सब जूनियर महिला हॉकी चैंपियनशिप 2021 को लेकर आम हो या खास सभी कोई काफी उत्साहित हैं सभी कोई अपने अपने तरह से बेहतर से बेहतर आयोजन करने का प्रयास कर रहे हैं जिला के जनप्रतिनिधि हो या प्रशासन के पदाधिकारी या पुलिस के पदाधिकारी हो या जनता हो एवम् न्यायपालिका के पदाधिकारी सभी कोई अपने अपने स्तर से इस आयोजन को बेहतर से बेहतर करने का प्रयास कर रहे हैं। सिमडेगा के माननीय उपायुक्त श्री सुशांत गौरव जी की अगुवाई में जिला प्रशासन के पदाधिकारी दिन रात मेहनत किए हुए हैं वही पुलिस के कप्तान डॉ एस. तबरेज पुलिस अधीक्षक सिमडेगा की अगुवाई में पुलिस प्रशासन सुरक्षा के पुख्ता पुख्ता इंतजाम की तैयारी कर रहे हैं सिमडेगा के विधायक श्री भूषण बड़ा एवं अन्य जन प्रतिनिधि भी अपने स्तर से लगातार आयोजन को बेहतर करने का प्रयासरत हैं।
आज सुबह ही मॉर्निंग वॉक करते हुए सिमडेगा के अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश एडीजे मधुरेश कुमार वर्मा एवम मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी आनंदमणि त्रिपाठी हॉकी स्टेडियम पहुंचकर खिलाड़ियों को प्रोत्साहित किये। अपर जिला एवम् सत्र न्यायाधीश एडीजे मधुरेश कुमार वर्मा जी ने कहा की सिमडेगा जिला में राष्ट्रीय प्रतियोगिता का होना बहुत ही गौरव की बात है ,जिला ने कई राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी दिए हैं और यहां के रग-रग में हॉकी बसी हुई है इसलिए इस तरह की प्रतियोगिताएं यहां करना बहुत ही आवश्यक है और यह प्रतियोगिता जिला के लिए विकास में वरदान साबित होगा । उन्होंने खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि हम सभी का सम्मान पूरे देश में हो इसलिए हम सभी को बहुत ही अच्छा प्रदर्शन करना है आप बाहर बहुत अच्छे प्रदर्शन किए हैं पर अपने घर में अपने माता-पिता के सामने आपको उनके सम्मान के लिए खेलने का जो अवसर मिला है उसका भरपूर लाभ लें इस तरह का मौका बहुत कम लोगों को मिल पाता है । उन्होंने कहा मैं भी बचपन में बांस की स्टिक से हॉकी खेला करता था और अपने हॉकी सटीक को रबड़ से बांधा करता था पर आप लोगों की तरह राष्ट्रीय खिलाड़ी नहीं बन पाया ,आपको मौका मिला है उसका भरपूर लाभ उठाएं अपने माता -पिता, गांव, जिला एवम् राज्य का नाम रोशन करें, साथ ही उन्होंने खिलाड़ियों को कहा आप जिला एवम् राज्य के लिए आइकोन् है जब आप गांव में जाते हैं तो आप लोग जो गांव में कुरितिया हैं उनके विषय में भी गांव के लोगों को बताएं जिससे कि हमारा समाज आगे बढ़ेगा।हॉकी सिमडेगा के अध्यक्ष मनोज कोनबेगी ने खिलाड़ियों को सर से परिचय कराते हुए बतलाया कि माननीय अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश एडीजे श्री मधुरेश कुमार वर्मा जी का खेल के प्रति बहुत ही लगाव है वे कई अवसरों में जिला के खिलाड़ियों के विषय में जानकारी भी लेते है और खिलाड़ियों का बहुत सम्मान करते है । सितम्बर 2017 में जब सर्वोच्च न्यायालय के वर्तमान मुख्य न्यायाधीश एस. ए .बोबडे साहब जी का एक कार्यक्रम में सिमडेगा आगमन हुआ था,उस कार्यक्रम में सर के मार्गदर्शन में जिला के कई राष्ट्रीय एवम् अंतरराष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ियों को सम्मानित किया गया था।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: