अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

जेपीएससी की झारखंड संयुक्त सिविल सेवा परीक्षा
जिले के 102 केन्द्रों में ली जाएगी 32119 परीक्षार्थियों की परीक्षा


धनबाद:- जेपीएससी द्वारा 19 सितंबर को आयोजित होने वाली झारखंड संयुक्त सिविल सर्विस पीटी परीक्षा 2021 की तैयारियों की समीक्षा हेतु न्यू टाउन हॉल, धनबाद में उपायुक्त की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया।
इस संबंध में उपायुक्त ने बताया कि वर्तमान समय में सभी परीक्षा केंद्रों पर कोविड समुचित व्यवहार का अक्षरशः अनुपालन सुनिश्चित कराते हुए परीक्षा को कदाचार मुक्त एवं निष्पक्ष माहौल में संपन्न कराना जिला प्रशासन की प्राथमिकता है।
उन्होंने बताया कि परीक्षा में जिले में कुल 102 परीक्षा केंद्रों पर 32119 परीक्षार्थी भाग लेंगे। निर्वाचन कार्यों के तहत की तरह जेपीएससी की परीक्षा के दौरान भी स्कोप आफ एरर शून्य रहता है। अतः बैठक में सभी केंद्राधीक्षकों, दंडाधिकारियों, नोडल पदाधिकारी व पुलिस-प्रशासन के पदाधिकारियों को जेपीएससी द्वारा निर्धारित सभी निर्देशों का पूर्ण रूप से अध्ययन कर उसका पालन सुनिश्चित करवाने का निर्देश दिया गया।
बैठक में परीक्षा के पूर्व की तैयारियों, परीक्षा के दौरान की जाने वाली कार्यों, परीक्षा के उपरांत किए जाने वाले कार्यों से लेकर आयोग को प्रतिवेदन भेजने तक की पूरी प्रक्रिया के विषय में विस्तार से चर्चा की गई।
उपायुक्त ने कहा कि कई विद्यार्थियों का भविष्य इस परीक्षा पर निर्भर करता है। निरंतर कई परीक्षार्थियों द्वारा कदाचार करने की संभावना बनी रहती है। यदि कोई परीक्षार्थी दो नंबर भी कदाचार करके प्राप्त करता है, तो अंतिम मेरिट लिस्ट में उसे अतिरिक्त एडवांटेज प्राप्त होता है। जिससे ईमानदारी से कदाचार मुक्त परीक्षा देने वाले परीक्षार्थियों के भविष्य पर असर पड़ता है। अतः हमें किसी भी परिस्थिति में कदाचार मुक्त परीक्षा संपादित करना सुनिश्चित करना है।
बैठक में उपायुक्त ने कहा कि सभी दंडाधिकारी एवं पुलिस टीम के सदस्य परीक्षा शुरू होने के 2 घंटे पूर्व अर्थात 8ः00 बजे तक परीक्षा केंद्रों पर अनिवार्य रूप से केंद्र पर रिपोर्ट करेंगे। परीक्षा शुरू होने से आधे घंटे पूर्व से परीक्षार्थियों की इंट्री सीट प्लान के अनुरूप करवाएंगे। परीक्षार्थियों की इंट्री के दौरान यह सुनिश्चित करेंगे कि उनके पास किसी प्रकार का कोई इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस, मोबाइल फोन या इलेक्ट्रॉनिक घड़ी इत्यादि नहीं हो। संबंधित क्षेत्र के नोडल पदाधिकारी इस संबंध में सभी केंद्र अधीक्षकों से समन्वय स्थापित कर यह सुनिश्चित कराएंगे।
उन्होंने बताया कि वज्रगृह से परीक्षा केंद्र तक प्रश्नपत्र पहुंचाने, प्रश्नपत्र खोलने एवं वितरण करने की एसओपी का कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराया जाएगा एवं इसकी वीडियोग्राफी भी सुनिश्चित की जाएगी।
उन्होंने बताया कि आयोग द्वारा यह स्पष्ट दिशा निर्देश दिया गया है कि परीक्षा हेतु निर्धारित 2 घंटे सिर्फ और सिर्फ परीक्षार्थियों को परीक्षा देने के कार्य में उपयोग में लाया जाएगा। अतः ओएमआर शीट अथवा आंसर शीट परीक्षा शुरू होने के 15 मिनट पहले परीक्षार्थियों को उपलब्ध कराया जाएगा। जिससे कि वह 2 घंटे पूरी तरह से परीक्षा के लिए दे सकें।
बैठक में उपायुक्त ने सभी को स्पष्ट निर्देश दिया कि यदि कोई गलत गतिविधि होती है, तो उसके विरुद्ध तुरंत कार्यवाही करना है। कदाचार करने वाले विद्यार्थियों के विरुद्ध एफआईआर करने का निर्देश आयोग द्वारा दिया गया है। उन्होंने टॉयलेट के इंट्री एवं एग्जिट प्वाइंट पर निरंतर नजर बनाए रखने एवं गलत गतिविधियों का वीडियोग्राफी कराना सुनिश्चित करने का निर्देश बैठक में दिया।
उन्होंने बैठक में कहा कि आयोग द्वारा जारी दिशा-निर्देशों को परीक्षा शुरू होने से पूर्व सभी परीक्षार्थियों को स्पष्ट रूप से बताएं। किसी भी परीक्षार्थी के मन में किसी प्रकार का कोई असमंजस की स्थिति नहीं रहनी चाहिए। परीक्षा केंद्रों पर सभी नागरिक सुविधाएं यथा पेयजल, शौचालय, विद्युत इत्यादि की उपलब्धता सुनिश्चित कराने का निर्देश भी बैठक में दिया गया।
बैठक में एसएसपी ने कहा कि परीक्षा के दौरान पर्याप्त सुरक्षा एवं सुचारू यातायात की व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी। सभी क्षेत्रों में पेट्रोलिंग पार्टी एवं अतिरिक्त बल की प्रतिनियुक्ति सुनिश्चित की जाएगी। सभी केंद्रों पर पुलिस की टीम निर्धारित समय से पहुंचेगी।
उन्होंने कहा कि सभी केंद्रों पर परीक्षार्थियों एवं परीक्षा केंद्रों के हिसाब से पुलिस बल की पर्याप्त संख्या में प्रतिनियुक्ति की जाएगी। उन्होंने सभी केंद्र अधीक्षकों को संबंधित थाना प्रभारी से समन्वय स्थापित कर सुरक्षा की व्यवस्था सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया।
बैठक में उपायुक्त, वरीय पुलिस अधीक्षक, पुलिस अधीक्षक शहरी, अनुमंडल पदाधिकारी, जिला शिक्षा पदाधिकारी, सभी केंद्र अधीक्षक, सभी क्षेत्रों के नोडल पदाधिकारी सहिय अन्य पुलिस एवं प्रशासन के पदाधिकारी उपस्थित रहे।

%d bloggers like this: