May 8, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कोरोना के खिलाफ जंग में जान गंवा रहे पत्रकार, 50 लाख का हो बीमा : लंबोदर महतो

विधायक ने कहा, पत्रकारों को फ्रंटलाइन वर्कर्स का मिले दर्जा

रांची:- आजसू पार्टी के महासचिव एवं विधायक डॉ. लंबोदर महतो ने कहा है कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में स्वास्थ्य कर्मियों, पुलिसकर्मियों आदि के अलावा झारखंड के पत्रकार भी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। अखबारों एवं विभिन्न चैनलों के मीडिया कर्मी कोरोना वायरस जुड़ी तमाम बातें लोगों के सामने ला रहे हैं। कोरोना नियंत्रण में सरकार या जिला प्रशासन की लापरवाही की बात हो या फिर केंद्र या राज्य सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन, आम जनता के सामने लाने में इनकी महत्वपूर्ण भूमिका होती है।
विधायक ने कहा, ये अपनी जान की परवाह किए बिना लगातार रिपोर्टिंग कर रहे हैं जिससे वे संक्रमित भी हो रहे हैं। झारखंड के ही लगभग एक दर्जन से अधिक पत्रकार संक्रमित होकर अपनी जान गवा चुके हैं। इनमें आशुतोष कुमार चौधरी, जुगल किशोर यादव, धनंजय मिश्रा, शार्दुल कुमार, टीपी सिंह, पंकज प्रसाद, सुनील कमल, ख्वाजा मुजाहिदीन, रंजीत सिंह, त्रिपुरारी सिंह, आमिर अहमद हाशमी, अविनाश उपाध्याय, सुनील कुमार पासवान आदि शामिल हैं। कई पत्रकारों ने अपने परिजन भी खोए हैं। ऐसे में जरूरी है कि केंद्र व राज्य सरकार पत्रकारों को फ्रंटलाइन वर्कर्स में शामिल करे। उन्होंने केंद्र व राज्य सरकार से मांग की है कि स्वास्थ्य कर्मियों की तरह पत्रकारों का भी 50 लाख का बीमा हो, क्योंकि पत्रकार अल्प वेतन भोगी होते हैं और उनका पूरा परिवार उन पर आश्रित होता है। उनके अनुसार, दुख की बात है कि पत्रकारों को फ्रंटलाइन वर्कर में शामिल नहीं किया गया, जिससे उनका टीकाकरण अभी तक शुरू नहीं किया गया है। यह ठीक नहीं है। केंद्र व राज्य सरकार को इस ओर ध्यान देना चाहिए। विधायक ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से मांग की है कि जिन पत्रकारों की कोरोना संक्रमण से मौत हो चुकी है, उनके आश्रितों की सुध लेकर उन्हें तत्काल आवश्यक सहायता राशि उपलब्ध कराएं। जो पत्रकार वर्तमान में संक्रमित हैं, उनका समुचित इलाज हो।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: