अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

जो रूट छह साल बाद बने दुनिया के नंबर एक टेस्ट बल्लेबाज


दुबई:- भारत के खिलाफ मौजूदा टेस्ट सीरीज में शानदार प्रदर्शन करने वाले इंग्लैंड के कप्तान जो रूट बुधवार को लगभग छह साल बाद दुनिया के नंबर एक टेस्ट बल्लेबाज बन गए।
30 वर्षीय रूट श्रृंखला की शुरुआत में पांचवें स्थान पर थे, लेकिन नॉटिंघम, लॉर्ड्स और लीड्स में खेले गए तीनों टेस्ट मैचों में 507 रनों ने उन्हें विराट कोहली, मार्नस लाबुस्चगने, स्टीव स्मिथ और अंत में न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन से आगे निकलने में मदद की। वह अब पूर्व नंबर एक विलियमसन से 15 रेटिंग अंक ज्यादा होने के कारण पहले नंबर पर आ गए हैं। रूट लीड्स में तीसरे टेस्ट से पहले बल्लेबाजी रैंकिंग में दूसरे स्थान पर थे, जिसमें उन्होंने इंग्लैंड की एकमात्र पारी में 121 रन बनाए थे। वह इससे पहले दिसंबर 2015 में नंबर एक पर रहे थे, लेकिन तब कोहली और स्मिथ उनसे आगे निकल गए थे। विलियमसन समेत इन तीनों खिलाड़ियों के अलावा नवंबर 2015 में दक्षिण अफ्रीका के एबी डिविलियर्स भी नंबर एक पर थे। इंग्लैंड के कप्तान अब अपने करियर के सर्वश्रेष्ठ 917 रेटिंग अंकों से केवल एक अंक नीचे हैं, जो उन्होंने अगस्त 2015 में नॉटिंघम में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 130 रनों की पारी के बाद हासिल किए थे। उल्लेखनीय है कि रूट के अलावा अब तक इंग्लैंड के केवल चार बल्लेबाजों ने ही सर्वाधिक रेटिंग अंक हासिल किए हैं, जिनमें लेन हटन, जैक हॉब्स, पीटर मे और डेनिस कॉम्पटन शामिल हैं। आईसीसी की ओर से बुधवार को जारी ताजा साप्ताहिक रैंकिंग में इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाज रोरी बर्न्स, जॉनी बेयरस्टो और डेविड मलान को भी फायदा हुआ। बर्न्स पांच स्थान के फायदे से 24वें, बेयरस्टो दो स्थान के फायदे से 70वें, जबकि मलान 70 रन की पारी की बदौलत फिर से 88वें स्थान पर पहुंच गए हैं।

%d bloggers like this: