June 18, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

मुख्यमंत्री को खुला पत्र,झामुमो सरकार का आदेश आते आते, एक- एक कर कोरोना से मरते जा रहें हैं पत्रकार, कोई सुध लेने वाला नहीं

अभी तक नहीं मिला कोरोना वारियर्स का दर्जा, 50 लाख की सहायता राशि तो दूर की कौड़ी

समय रहते जागो हे हेमंत सरकार. कम से कम चौथे स्तंभ मीडिया को तो बचा लो

धनबाद:- झारखण्ड सरकार ने पत्रकारों व उनके परिवार के हित में एक भी महत्वपूर्ण निर्णय नहीं लिया है। प्रदेश के मीडिया साथियों का कोरोना का इलाज सरकार कब कराएगी।
मीडिया के प्रिंट,इलेक्ट्रॉनिक, डिजिटल के सभी सदस्य अधिमान्य और गैर अधिमान्य साथियों का कोरोना के इलाज की चिंता, सरकार कब कराएगी.एनएफ।
सभी पत्रकारों को सुविधा कब तक मिलेगी? प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक व डिजिटल के संपादकीय विभाग में कार्य कर रहे सभी पत्रकार, डेस्क में पदस्थ पत्रकार साथी, कैमरामैन, फोटोग्राफर सभी एक एक कर मर रहे हैं। मीडिया के साथियों के परिवार के कोरोना इलाज की चिंता सरकार या अखबार के मालिक कब कराएंगे।
उल्लेखनीय है कि मध्य प्रदेश में अधिमान्य और गैर अधिमान्य पत्रकार साथियों को पहले से ही पत्रकार बीमा योजना अंतर्गत इलाज की व्यवस्था की गई है.एनएफ।पत्रकार कल्याण योजना द्वारा सहायता दी जा रही है।परंतु झारखंड में सिर्फ अखबारी बयान को छोड़ धरातल पर कोई कार्य भी नहीं हो रहा है. आखिर कब तक चलेगा यह नाटक! सवाल उठता है कि क्या सिर्फ प्रेस कार्ड या आई कार्ड से भर जाएगा उनका पेट, हो जाएगा ऊनका इलाज. मरने के बाद उनके बीबी बच्चों का क्या होगा. समय रहते जागो हे हेमंत सरकार. कम से कम चौथे स्तंभ मीडिया को तो बचा लो.

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: