जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में स्थित अवंतिपोरा इलाके में आतंकियों ने सीआरपीएफ जवानों के एक काफिले पर बड़ा हमला किया है। इस हमले में 40 जवान शहीद हुए हैं और कई अन्य घायल हैं। गुरुवार शाम हुई वारदात के बाद आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है।


हमले के बाद की तस्वीर

हाइलाइट्स

  • पुलवामा के अवंतिपोरा में सीआरपीएफ काफिले पर आतंकी हमला
  • विस्फोटकों से लदी गाड़ी से मारी बस में टक्कर, 40 जवान शहीद
  • जैश ने ली हमले की जिम्मेदारी, आतंकी आदिल का सामने आया नाम
  • हमले में घायल हुए जवानों का श्रीनगर के अस्पताल में इलाज जारी

जम्मू-कश्मीर पुलवामा जिले में गुरुवार शाम हुए एक बड़े आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए हैं। शहीद जवानों की संख्या बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। उरी में सितंबर 2016 में हुए आतंकी हमले के बाद कश्मीर में यह सुरक्षाबलों पर अब तक का सबसे बड़ा आतंकी हमला है। गुरुवार को श्रीनगर-जम्मू हाइवे पर स्थित अवंतिपोरा इलाके में आतंकियों ने सीआरपीएफ के एक काफिले को निशाना बनाया। इस हमले के बाद दक्षिण कश्मीर के कई इलाकों में सुरक्षा एजेंसियों द्वारा अलर्ट जारी किया गया है। 

आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है। बताया जा रहा है कि आदिल अहमद डार नाम के आतंकी ने इस काफिले पर हमले की साजिश रची थी। जम्मू-कश्मीर सरकार के सलाहकार के विजय कुमार ने समाचार एजेंसी को बताया कि पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों की संख्या 40 तक पहुंच गई है।आदिल पुलवामा के काकापोरा इलाके का रहने वाला है। सीआरपीएफ की 54वीं बटैलियन के जवानों को इस हमले में आतंकियों ने निशाना बनाया। हमारे सहयोगी चैनल टाइम्स नाउ के अनुसार, गुरुवार शाम केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवानों पर अवंतिपोरा के गरीपोरा के पास हमला किया गया।

Leave a Reply

%d bloggers like this: