अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

झारखंड को 76.54लाख वैक्सीन मिला, 76.74लाख को दिया गया टीका

मुख्यमंत्री ने वैक्सीन वेस्टेज नकारात्मक होने पर स्वास्थ्य कर्मियों को दी बधाई

रांची:- देशव्यापी कोविड-19 टीकाकरण अभियान में वैक्सीन वेस्टेज करने के मामले में कुछ दिन पहले झारखंड की बड़ी बदनामी हुई थी, लेकिन अब झारखंड इससे उबर गया है। झारखंड की गिनती अब उन राज्यों में होने लगी है, जिन राज्यो ंमें वैक्सीन वेस्टेज नकारात्मक है। स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार झारखंड को अब तक (12 जुलाई 2021) 76लाख 54 हजार 340 डोज प्राप्त हुआ, लेकिन स्वास्थ्य कर्मियों के प्रयास से अब तक 76 लाख 74 हजार 105 लोगों को कोविड-19 का डोज दिया जा चुका है। जबकि 38हजार 700 डोज 12जुलाई तक स्टॉक में था। इसमें से 63लाख 86 हजार 567 लोगों को पहला डोज और 12 लाख 88 हजार 822 लोगों को दोनों डोज दिया जा चुका है। वहीं 59 हजार 749 डोज की बर्बादी हुई और कुल वेस्टेज का प्रतिशत 0.78 प्रतिशत रहा।
इधर, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने राज्य में कोरोना टीकाकरण में शामिली झारखंड में सभी अधिकारियों और स्वास्थ्य कर्मियों तथा अन्य सभी सहयोगियों के प्रति आभार व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि सभी के प्रयास से राज्य में ना केवल अब तक प्राप्त वैक्सीन को सुरक्षित तरीके से जनता को लगाया जा सका है, बल्कि वेस्टेज भी अब निगेटिव -0.78 प्रतिशत पर आ पहुंचा है।
मुख्यमंत्री ने मंगलवार को सोशल मीडिया पर पोस्ट कर कहा कि कोविड-19 वैक्सीनेशन के मसले पर अभी कुछ दिन पहले ही ग़लत आकड़ें लगा राज्य सरकार को बदनाम करने की कोशिशें हुई थी लेकिन पर अब इन आँकड़ों के बाद ऐसे दुष्प्रचार पर विराम लगेगा। हेमंत सोरेन ने कहा कि जहां वैक्सीन लगाने की झारखंड की क्षमता हर दिन क़रीब ढाई से तीन लाख लोगों को है ,लेकिन वैक्सीन की कमी के कारण सरकार उससे काफ़ी कम की प्लानिंग कर उसे जनता तक पहुंचा पा रहे हैं। उन्होंने उम्मीद जतायी कि आने वाले दिनों में वैक्सीन की कमी पूरी होगी और सरकार तेज़ी से सभी झारखंडियों तक वैक्सीन की दोनो डोज़ पहुंचा सकेंगी।

%d bloggers like this: