अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

झारखंड बोर्ड के 10वीं का रिजल्ट घोषित, 95.93 फीसदी परीक्षार्थी सफल


लड़कियों ने मारी बाजी
रांची:- झारखंड अधिविद्य परिषद (जैक) द्वारा आयोजित मैट्रिक परीक्षाफल का प्रकाशन गुरुवार को कर दिया गया। राज्य के मानव संसाधन विकास मंत्री जगरनाथ महतो ने एक सादे समारोह में रिजल्ट जारी किया। मैट्रिक परीक्षा में 95.93 फीसदी परीक्षार्थी सफल रहे है। जैक की दसवीं बोर्ड परीक्षा में इस बार लड़कियों ने बाजी मारी है।
मैट्रिक परीक्षा में राज्य के 4 लाख 15 हजार 924 परीक्षार्थी सफल घोषित हुए है, जिसमें से 2लाख 70 हजार 931 परीक्षार्थी प्रथम श्रेणी से सफल हुए है। जबकि द्वितीय श्रेणी में 1 लाख 33 हजार 924 द्वितीय श्रेणी और 11069 परीक्षार्थी तृतीय श्रेणी में सफल हुए।
करीब 10 महीने तक बीमार रहने के बाद शिक्षामंत्री जगरनाथ महतो ने गुरुवार को ही पदभार ग्रहण किया था और पदभार ग्रहण करने के साथ ही झारखंड के छात्र-छात्राओं को बड़ा तोहफा दिया है। इस मौके पर उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूलों में प्राइवेट स्कूलों की तरह गुणवत्ता उपलब्ध कराना सरकार की प्राथमिकता होगी। उन्होंने कहा कि जो इस परीक्षा में असफल हुए है, वे घबराये, बल्कि भविष्य में बेहतर करने की तैयारी अभी से प्रयास शुरू कर दें।
टॉपरों की सूची जैक जारी नहीं करेगा
इस बार कोरोना काल में जैक द्वारा परीक्षा आयोजित नहीं की गयी, इस कारण टॉपर की लिस्ट जारी नहीं की गयी है। परीक्षा नहीं होने के कारण एक तरह से मैट्रिक और इंटरमीडिएट के छात्र-छात्राएं प्रमोट हुए है। छात्र-छात्राएं पिछली कक्षा के अंक के आधार पर प्रमोट किए गये है। हालांकि स्कूल अपनी ओर से टॉपर छात्र-छात्राओं के नाम की घोषणा कर सकते हैं।
9वीं परीक्षा के आधार पर रिजल्ट हुआ जारी
मैट्रिक में वर्ष 2021 में चार लाख 31 हजार से अधिक परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए थे। कोरोना महामारी के मद्देनजर इस परीक्षा को रद्द कर दिया गया और इंटरनल एसेसमेंट के जरिए रिजल्ट का प्रकाशन किया गया। 9वीं के आधार पर 10वीं का रिजल्ट घोषित किया गया, जबकि 11वीं के रिजल्ट के आधार पर कल 12वीं का परीक्षा परिणाम जारी किया जाएगा।
परीक्षा में लड़कियों ने मारी बाजी
जैक 10वीं बोर्ड परीक्षा में इस बार लड़कियों ने बाजी मारी है। परीक्षा में 225692 छात्राएं शामिल हुई थी, जिसमें से 216566 छात्राएं सफल घोषित हुई है और छात्राओं के सफल होने का प्रतिशत 95.96 प्रतिशत रहा। वहीं इस परीक्षा में 207879 छात्र सम्मिलित हुए थे, जिसमें 199358 छात्र सफल रहे और इनके सफलता का प्रतिशत 95.90प्रतिशत रहा।
झारखंड गठन के बाद सबसे अच्छा रिजल्ट
झारखंड गठन के बाद इस वर्ष सबसे अच्छा रिजल्ट रहा है। इस बार करीब 96 फीसदी परीक्षार्थी सफल रहे। जबकि पिछले वर्ष 75.07प्रतिशत, वर्ष 2019 में 70.81प्रतिशत, वर्ष 2018 में 59.56प्रतिश्ता, वर्ष 2017 में 67.83प्रतिशत, वर्ष 2016 में 67.54प्रतिशत, वर्ष 2015 में 71.20 प्रतिशत और वर्ष 2014 में 75.39प्रतिशत परीक्षार्थी सफल रहे। इस बार कुल 433571 परीक्षार्थियों ने आवेदन दिया था, परीक्षा नहीं होने के कारण सभी 433571परीक्षार्थियों को परीक्षा में शामिल मान लिया गया और इसमें से 415924 परीक्षार्थी सफल घोषित हुए। इस तरह से कुल 95.93प्रतिशत परीक्षार्थी सफल रहे।
12वीं बोर्ड का परीक्षाफल 30 जुलाई को
जैक के अध्यक्ष अरविंद प्रसाद ने बताया कि शुक्रवार को इंटरमीडिएट के रिजल्ट जारी करने पर सहमति बनी है। जैक के आधिकारिक वेबसाइट पर जैक कार्यालय से रिजल्ट जारी किया जाएगा।

%d bloggers like this: