May 8, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बिहार में लॉकडाउन लगाने पर जीतन राम मांझी ने रखी शर्त

पटना:- बिहार में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को ध्यान में रख कर सरकार लॉकडाउन के विकल्प पर विचार कर सकती है। वहीं दूसरी ओर पूर्व सीएम जीतनराम मांझी ने इसका विरोध किया है। पूर्व मुख्यमंत्री और हम पार्टी के प्रमुख जीतनराम मांझी ने मंगलवार को सोशल मीडिया के माध्यम से कहा है कि वह एक ही शर्त पर लॉकडाउन का समर्थन करेंगे अगर सबका बिजली,पानी बिल, स्कूल-कॉलेज की फीस माफ की जाए। किरायेदारों का किराया माफ हो, बैंक लोन, ईएमआई माफ किया जाए। पूर्व सीएम मांझी ने कहा है कि किसी को शौक नहीं होता कि जान जोखिम में डालकर बाहर जाए लेकिन रोटी और कर्ज के कारण सब कुछ करना पड़ता है यह बात एयर कंडीशनर में रहने वाले लोगों को समझ में नहीं आएगी। जीतन राम मांझी ने अपने इस स्टैंड से स्पष्ट कर दिया है कि वह लॉकडाउन का समर्थन नहीं कर रहे।अब ऐसे में सरकार के लिए कोई भी फैसला लेना आसान नहीं है एक तरफ बिहार महामारी की चपेट में है और दूसरी तरफ एनडीए में ही गतिरोध बढ़ता जा रहा है। उल्लेखनीय है कि इसके पहले भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल और मंत्री रामसूरत राय लॉकडाउन का समर्थन कर चुके हैं। संजय जायसवाल ने सरकार के नाईट कर्फ्यू लगाने के फैसले पर सवाल खड़े किए थे। वहीं मंत्री रामसूरत राय ने कहा था कि प्रदेश में पूर्व लॉकडाउन लगाकर ही कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ी जा सकती है। बिहार में कोरोना से हालात बिगड़ते जा रहे हैं। ऐसे में महज नाइट कर्फ्यू लगाने से संक्रमण कम नहीं होगा। बिहार में संपूर्ण लॉकडाउन लगना चाहिए। वही मंत्री मुकेश सहनी ने भी सोमवार को लॉकडाउन करने की बात कही है।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: