January 17, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

नरेन्द्र मोदी को सबसे स्वीकार्य नेता करार दिया जाना गौरव की बात:भाजपा

नयी दिल्ली:- भारतीय जनता पार्टी ( भाजपा ) ने शनिवार को कहा कि अमेरिका की डेटा सर्वेक्षण संस्था ‘मॉर्निंग कंसल्ट’ की ओर से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को दुनिया का सबसे स्वीकार्य नेता करार दिया जाना देश के लिए गौरव की बात है।
भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा,” मॉर्निंग कंसल्ट’ ने दुनिया के 13 प्रमुख लोकतांत्रिक देशों के नेताओं की स्वीकार्यता के संबंध में उनकी जनता के बीच सर्वे किया। इस सर्वे में मोदी जी को सबसे ज्यादा 55 फीसदी स्वीकार्यता रेटिंग मिली है जो उनकी लोकप्रियता को साबित करता है।”

श्री जावडेकर ने कहा,” इस सर्वे में अमेरिका, ब्रिटेन, कनाडा, फ्रांस , इटली , जापान , जर्मन , ब्राजील , मैक्सिको, दक्षिण कोरिया और स्पेन जैसे देशों के नेताओं के बारे में जनता की राय का आकलन किया गया था। सर्वे नतीजों में सामने आया है कि अपने कार्यकाल के छ सालों में मोदी जी की लोकप्रियता लगातार बढ़ रही है। सर्वे में मैक्सिको के राष्ट्रपति एंड्रेस मेनुअल लोपेज ओब्रेडोर दूसरे नंबर पर रहे जिन्हें 29 फीसदी जबकि तीसरे नंबर पर ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन को 27 फीसदी रेटिंग मिली है।” उन्होंने कहा कि दुनिया के सभी नेताओं की लोकप्रियता घटती बढ़ती रहती है लेकिन ऐसा कभी नहीं हुआ कि किसी नेता की लोकप्रियता लगातार बढ़े। ये अपने आप में बड़ी उपलब्धी है।
उन्होंने कहा,”अंतरराष्ट्रीय सर्वे एजेंसी ‘गैलप इंटरनेशनल’ ने भी माना है कि कोविड काल के दौरान 90 फीसदी भारतीय मानते हैं कि श्री मोदी का काम सराहनीय है। साथ ही ‘सी वोटर’ और ‘आईएएनएस’ जैसी सर्वे संस्थाओं में भी 75 फीसदी जनता ने मोदी जी की रणनीति को सराहा है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी उनकी तारीफ की है।”
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री दूरदृष्टि वाले नेता है। देश के विकास के आधार पर वह कार्यक्रम तैयार करके उन्हें सफल बनाते हैं। उनकी धारणा है कि देश प्रथम , देश के लिए सब कुछ और देश ही सबकुछ। सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास और आत्मनिर्भर भारत जैसे मंत्र उनकी सोच को दर्शाते हैं।
श्री जावडेकर ने कहा कि पिछले कुछ सालों में पूरी दुनिया में भारत का दबदबा बढ़ गया है। कोरोना के खिलाफ युद्ध में प्रधानमंत्री ने जनता की सहभागिता सुनिश्चित की। सही समय पर लॉकडाउन किया जिससे नुकसान कम हुआ। भारत में कोरोना मरीज़ों की रिकवरी रेट सबसे ज्यादा है जो प्रधानमंत्री की योजना का ही परिणाम है। कोरोना जैसे संकट के वक्त नेतृत्व की परीक्षा होती है जिसमें श्री मोदी जी सफल हुए हैं। डाटा सर्वे संस्था के मुताबिक करीब 75 फीसदी लोगों ने श्री मोदी का पक्ष लिया है। उल्लेखनीय है कि मॉर्निंग कंसल्ट विश्व के नेताओं की उनके कार्यकाल में स्वीकृति के आधार पर सर्वे करती है।

Recent Posts

%d bloggers like this: