अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

ISI का मास्टरमाइंड गिरफ्तार, जीशान और शाहरुख की एटीएस को तलाश


लखनऊ:- यूपी एटीएस की टीम ने आईएसआई मॉड्यूल के आतंकी को विस्फोटक पहुंचाने वाले उबैद-उर-रहमान को प्रयागराज के करेली 60 फिटा रोड तिरंगा चौराहे के पास से गिरफ्तार किया है. आतंकी उबैद-उर-रहमान अपनी दूसरी पत्नी के साथ करेली में छिप कर रह रहा था. एटीएस सूत्रों की माने तो आतंकी उबैद-उर-रहमान उर्फ हुमैद-उर-रहमान को 14-15 सितंबर की रात संदेह के आधार पर हिरासत में लिया गया था. इसके बाद उसके पास से आतंकी गतिविधियों के अहम सुराग भी हाथ लगे. उबैद-उर-रहमान ने ही शाहरुख व उसके साथी के माध्यम से जीशान को आईडी उपलब्ध कराई थी. एटीएस ने विस्फोटक बरामद करने के बाद से ही उससे पूछताछ शुरू कर दी थी. अब आतंकी उबैद-उर-रहमान के साथी की तलाश भी की जा रही है. एटीएस सूत्रों की मानें तो प्रयागराज के करेली 60 फिटा रोड से गिरफ्तार हुए उबैद-उर-रहमान ओसामा का चाचा बताया जा रहा है. उबैद को हिरासत में लेने के बाद उससे पूछताछ में आतंकी गतिविधियों के अहम सुराग भी एटीएस के हाथ लगे हैं. उबैद-उर-रहमान ने ही जीशान को आतंकी ट्रेनिंग कराने के साथ-साथ विस्फोटक पदार्थ उपलब्ध कराए थे. एटीएस की टीम ने उबैद-उर-रहमान की गिरफ्तारी के बाद वासियाबाद निवासी मदरसा संचालक सैफ-उर-रहमान के घर और उससे जुड़े लोगों के घरों पर भी छापेमारी की है. एटीएस टीम लगातार आईएसआई से जुड़े सबूत तलाशने में जुटी हुई है. बताया जाता है कि आतंकियों तक विस्फोटक पहुंचाने वाली चेन तोड़ने के लिए एटीएस की टीम शाहरुख और उसके साथियों के ठिकानों पर लगातार छापेमारी कर रही है. सीसीटीवी कैमरे में भी शाहरुख और उसके साथी का वीडियो कैद हुआ है. इसके आधार पर एटीएस लगातार खोजबीन में लगी हुई है. हालांकि अभी भी शाहरुख एटीएस की गिरफ्त से दूर है. बताया जाता है कि एटीएस ने जिन तीन संदिग्ध आतंकियों को हिरासत में लेकर दिल्ली की स्पेशल टीम को सौंपा था, उनको पूछताछ के बाद दिल्ली स्पेशल टीम ने छोड़ दिया है. उन पर एटीएस की टीम निगाह बनाए हुए हैं.

%d bloggers like this: