May 8, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

एशियन जालान अस्पताल, अशर्फी अस्पताल एवं प्रगति नर्सिंग होम का निरीक्षण

उपायुक्त ने की भर्ती मरीजों के उपचार व अस्पताल व्यवस्था की समीक्षा

धनबाद:- उपायुक्त उमा शंकर सिंह ने सोमवार को एशियन जालान अस्पताल, अशर्फी अस्पताल एवं प्रगति नर्सिंग होम में भर्ती कोविड संक्रमित मरीजों के उपचार तथा अस्पताल की व्यवस्थाओं की समीक्षा हेतु निरीक्षण किया।
उन्होंने कहा कि जिले के लोगों की सुरक्षा जिला प्रशासन की सर्वोच्च प्राथमिकता है। जिला प्रशासन हर प्रकार की परिस्थिति से सामना करने के लिए पूरी तरह से तैयार है। किसी भी व्यक्ति को परेशान होने की आवश्यकता नहीं है। नागरिकों की सुरक्षा हेतु आवश्यकतानुसार सभी तैयारी की गई हैं तथा भविष्य की रणनीति पर भी कार्य किया जा रहा है।
एशियन जालान अस्पताल में निरीक्षण के दौरान पाया गया कि कोविड-19 संक्रमित मरीजों को भर्ती करने एवं उन्हें डिस्चार्ज करने हेतु अलग से रास्ते का निर्माण सही ढंग से नहीं किया गया है।
इस पर उपायुक्त ने अविलंब उन्हें अस्पताल के प्रबंधन समिति की बैठक कर सभी तैयारियां प्रोटोकॉल के अनुरूप पूर्ण करने का निर्देश दिया। साथ ही हर हालत में गुरुवार तक सभी व्यवस्थाएं निर्धारित दिशानिर्देशों के अनुरूप सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।
अशर्फी अस्पताल में उपायुक्त ने कोविड वार्ड, आईसीयू, महिला वार्ड, सामान्य वार्ड तथा आईएमसीयू इत्यादि का निरीक्षण किया।
निरीक्षण के दौरान उपायुक्त ने भर्ती एक-एक मरीज का बीएसटी चेक किया तथा आईडीएसपी के नोडल डॉक्टर राजकुमार सिंह ने यह जांच करवाया की “प्रोटोकॉल के अनुरूप इलाज हो रहा है अथवा नही“।
प्रगति नर्सिंग होम में उपायुक्त ने पूरे अस्पताल परिसर का निरीक्षण किया तथा उन्होंने उपचार की प्रक्रिया तथा व्यवस्थाओं पर संतोष व्यक्त।
उपायुक्त ने कहा आपदा के समय हम सभी को एक साथ मिलकर कोरोना वायरस से लड़ना है। जिला प्रशासन द्वारा सभी निजी अस्पतालों को हर संभव सहायता प्रदान की जाएगी। परंतु संक्रमित मरीजों के इलाज में सेवा भावना से किसी प्रकार का कोई समझौता नहीं किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि निरीक्षण के दौरान सभी अस्पताल प्रबंधकों से मरीजों को उचित समय पर भोजन, दवा तथा अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया। सभी चिकित्सकों को समय-समय पर मरीजों की मॉनिटरिंग करने का निर्देश दिया गया।
निरीक्षण के दौरान उपायुक्त ने चिकित्सकों तथा चिकित्सा कर्मियों को निर्देश दिया कि मरीजों के उपचार के साथ-साथ अपनी सुरक्षा पर भी अवश्य ध्यान दें। उन्होंने सभी अस्पतालों में संक्रमित मरीजों हेतु अलग रास्ता चिन्हित करने का निर्देश दिया। साथ ही गंभीर मरीजों हेतु अलग लिफ्ट इस्तेमाल करने का निर्देश दिया।
निरीक्षण के दौरान उपायुक्त ने सभी अस्पतालों के प्रबंधकों से अपनी क्षमता के अनुसार और अधिक बेड कोविड संक्रमित मरीजों के लिए आरक्षित करने के संबंध में विचार विमर्श किया तथा यथाशीघ्र इस संबंध में निर्णय लेने को कहा।
अस्पताल परिसर में कुछ भर्ती मरीजों के परिजन भी अपने परिजनों का हालचाल जानने पहुंचे थे तथा कुछ परिजन संक्रमित मरीजों को भर्ती कराने पहुंचे थे। निरीक्षण के दौरान उपायुक्त ने आए हुए परिजनों से भी बातचीत किया तथा अस्पताल प्रबंधकों से सभी का उचित उपचार सुनिश्चित करने एवं सुविधाएं उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। निरीक्षण के दौरान उपायुक्त उमा शंकर सिंह, आईडीएसपी नोडल डॉ राजकुमार सिंह तथा डीएमएफटी के नितिन पाठक सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: