January 23, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

भारत और ऑस्ट्रेलिया : पुरुष टेस्ट मैच में अंपायरिंग करने वाली पहली महिला अंपायर बनी पोलोसाक

सिडनी:- क्लेयर पोलोसाक भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सिडनी में खेले जाने वाले पुरुषों के टेस्ट मैच में अंपायरिंग करने वाली पहली महिला मैच अधिकारी बन गई है। ऑस्ट्रेलिया के न्यू साउथ वेल्स की 32 साल की पोलोसाक मैच में चौथे अंपायर की भूमिका में हैं।

क्या कहता है आईसीसी का नियम

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार मैचों की श्रृंखला के तीसरे मैच में 2 पूर्व तेज गेंदबाज पॉल रिफेल और पॉल विल्सन मैदानी अंपायर की भूमिका निभाएंगे जबकि ब्रूस ऑक्सेनफोर्ड तीसरे (टेलीविजन) अंपायर होंगे। डेविड बून मैच रेफरी होंगे। टेस्ट मैचों के लिए आईसीसी के नियमों के अनुसार, चौथे अंपायर को घरेलू क्रिकेट बोर्ड द्वारा अपने आईसीसी अंपायरों के अंतरराष्ट्रीय पैनल में से नियुक्त किया जाता है।

वनडे में भी अंपायरिंग करने वाली पहली महिला अंपायर

पोलोसाक इससे पहले पुरुष एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में अंपायरिंग करने वाली पहली महिला अंपायर बनने की उपलब्धि हासिल कर चुकी हैं। पोलोसाक ने 2019 में नामीबिया और ओमान के बीच विश्व क्रिकेट लीग डिवीजन दो के मैच में अंपायरिंग की थी। इतना ही नहीं पोलोसाक 2017 में ऑस्ट्रेलिया में पुरुषों के घरेलू लिस्ट ए मैच में अंपायरिंग करने वाली पहली महिला भी हैं।

चौथा अंपायर की भुमिका

चौथा अंपायर का काम मैदान में नई गेंद लाना, अंपायरों के लिए ड्रिंक ले जाना, लंच और चाय के दौरान पिच की देखभाल और लाईट मीटर से रोशनी की जांच करने जैसी चीजें शामिल हैं। किसी परिस्थिति में मैदानी अंपायर के हटने के बाद तीसरे अंपायर को मैदान में सेवाएं देनी होती हैं जबकि चौथे अंपायर को टेलीविजन अंपायर की भूमिका निभानी होती है।

Recent Posts

%d bloggers like this: