June 21, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बढ़ रही कोलियरी की आग, बीसीसीएल का फरमान- 35 हजार लीजिए और जगह खाली करिये

धनबाद:- बीसीसीएल लोयाबाद एरिया-5 की वासदेवपुर कोलियरी में भूमिगत आग का तांडव दिन ब दिन बढ़ता ही जा रहा है. जमीन के नीचे बे कीमती कोकिंग कोल में लगी आग के कारण स्थानीय लोगो में दहशत है. पिछले दिनों संजय उद्योग आउटसोर्सिंग माइंस में जोरदार आवाज के साथ ब्लास्ट हुआ था.
अचानक हुए इस ब्लास्ट के बाद तेजी से गैस रिसाव शुरू हो गया था जो अबतक जारी है. विस्थापन के नाम पर लोगों को 35 हज़ार की राशि दी जा रही है और रहने को जगह. लेकिन ना तो रहने के लिए इन्हें छत देने की बात हो रही है और ना ही कोई सुविधा. धनबाद के केंदुआडीह स्थित सिजुआ एरिया के बासुदेवपुर परियोजना में आग का तांडव जारी है. कोयले में लगी आग मानो इस बार बासुदेवपुर केंदुआडीह बस्ती और उसके आस-पास की बस्तियों को पूरी तरह निगलने का मन बना चुकी है और इसमे कोयला कम्पनी के अधिकारी भी मानो “आग” के समर्थन में खड़े नजर आते हैं.
अग्नि प्रभावित वासुदेवपुर क्षेत्र में बीसीसीएल और झरिया पुनर्वास प्राधिकार समिति जरेडा ने सर्वे शुरू कर वहां के लोगों के विस्थापन की बात शुरू कर दी है. बासुदेवपुर के विस्थापितों की हालत “ताड़ से गिरकर खजूर में अटके” वाली कहावत को चरितार्थ कर रही है. अग्नि प्रभावित क्षेत्र के विस्थापितों का पुनर्वास भूली में किया जा रहा है जहां ना तो बिजली है, पानी है और ना ही रहने के लिए छत..
आग पर काबू पाने के नाम पर बीसीसीएल प्रबंधन आग पर मिटटी डाल उसे ढंकने के अलावा कुछ और नहीं कर पा रहा है. जिस खदान में आग धधक रही है और गैस रिसाव अभी भी हो रहा है, ठीक उसके ऊपर घनी आबादी वाली बस्ती बसी हुई है.
स्थानीय लोग कहते हैं कि बीसीसीएल का सिर्फ कोयला उत्पादन बढ़ाना मकसद रह गया है. वह सुरक्षा की गारंटी की जिम्मेवारी से भाग रही है मिट्टी डालने से आग नहीं रुकेगा. लोग अपने परिवार के साथ पिछले चार पांच पुस्त से रह रहे हैं तो वह जाएं तो जाएं कहां.एनएफ.
वहीं वार्ड 12 के पार्षद प्रतिनिधि गोविंदा रावत ने कहा कि केन्दुआ खटाल, केन्दुआ चार नंबर और केन्दुआ बाजार में करीब 20 से 25 हजार लोग यहां रहते हैं. आज के घटना से सभी भयभीत हैं. समय रहते इसका समाधान नहीं किया गया तो आने वाले दिन में कोई बड़ा हादसा हो सकता है.
वहीं केन्दुआ खटाल चार नंबर के रहने वाले लोगों ने बताया कि इस घटना से फिलहाल दो सौ घर जो माइंस के बगल में है वह पूरी तरह प्रभावित हैं. घटना के बाद हमलोग काफी सहमे हुए हैं. बीसीसीएल प्रबंधन द्वारा लगातार दबाव बनाया जा रहा है कि आप जल्द से जल्द इस जमीन को खाली कर दें और भूली चले जाएं, जहां ना तो रहने के लिए घर है और ना पीने के लिए पानी.
वहीं सिजुआ एरिया के बीसीसीएल अधिकारी सत्येंद्र कुमार सिंह ने कहा कि हमारे माइन्स के आस-पास एक घनी आबादी है. माइंस में आग लगी हुई हे जिससे लोगों को नुकसान हो सकता है. इसलिए लोगों को हटाने का प्रयास किया जा रहा है ताकि जल्द से जल्द आग पर काबू पाया जा सके.
वहीं धनबाद अनुमंडल पदाधिकारी सुरेंद्र कुमार कहते हैं कि हमने बीसीसीएल अधिकारी से बात कर आग पर कैसे काबू पाया जाए इसकी जानकारी ली. साथ ही लोग सुरक्षित रहें इसके लिए लोगों को भूली में जमीन दी जा रही है. जल्द ही लोगों से बात कर वहां बसाया जाएगा.

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: