May 13, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

लखनऊ में कोविड अस्पतालों की संख्या में बढ़ोत्तरी

लखनऊ:- उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कोरोना संक्रमण के लगातार बिगड़ते हालात के बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीमारी की रोकथाम के लिए बचाव और उपचार के इंतजाम को और पुख्ता करने के निर्देश दिये हैं। श्री योगी ने कोविड-19 की समीक्षा बैठक में कहा कि कोविड अस्पतालों में पर्याप्त संख्या में बेड की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। कोविड चिकित्सालयों में चिकित्साकर्मियों, औषधियों, मेडिकल उपकरणों तथा बैकअप सहित आक्सीजन की सुचारु उपलब्धता रहे। उन्होंने काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग के काम में तेजी लाने के निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा कि लखनऊ के एरा मेडिकल काॅलेज, टीएस मिश्रा मेडिकल काॅलेज तथा इन्टीग्रल मेडिकल काॅलेज को डेडीकेटेड कोविड अस्पताल के रूप में प्रभावी ढंग से संचालित किया जाए। प्रत्येक बेड पर हाई फ्लो नेजल कैन्युला (एचएफएनसी) के साथ ही, वैन्टिलेटर की व्यवस्था रहे। पूरी क्षमता से डेडीकेटेड कोविड अस्पताल के रूप में इन मेडिकल काॅलेजों का संचालन होने पर दो हजार कोविड बेड्स उपलब्ध हो जाएंगे। हिन्द मेडिकल काॅलेज तथा मेयो मेडिकल काॅलेज में भी कोविड बेड्स की व्यवस्था की जाए। इसी तरह अन्य निजी मेडिकल काॅलेजों में भी कोविड बेड स्थापित किए जाएं। कैंसर संस्थान को भी डेडीकेटेड कोविड अस्पताल बनाया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि आरटीपीसीआर लैब्स की क्षमता बढ़ायी जाए, जिससे आने वाले दिनों में प्रतिदिन 1.5 लाख आरटीपीआर टेस्ट किए जा सकें। कोरोना की जांच के लिए ट्रूनैट मशीन का भी उपयोग किया जाए। उन्होंने एम्बुलेंस सेवाओं का सुचारु संचालन करने के निर्देश भी दिए। उन्होने कहा कि ग्रामीण व शहरी इलाकों में स्वच्छता व सैनिटाइजेशन के कार्यक्रम को चलाया जाए। इसके साथ ही, फाॅगिंग का कार्य भी किया जाए। उन्होंने परिवहन निगम की बसों को नियमित रूप से सैनिटाइज किए जाने के निर्देश भी दिए। उन्होने कहा कि लोगों को कोरोना से बचाव के सम्बन्ध में निरन्तर जागरूक किया जाए। इस कार्य में पब्लिक एड्रेस सिस्टम का प्रभावी ढंग से उपयोग किया जाए। श्री योगी ने कहा कि संक्रमण के प्रसार को नियंत्रित करने के उद्देश्य से धर्म स्थलों में पांच से अधिक लोग एक समय में न जाएं। सभी धर्म स्थलों पर कोविड प्रोटोकाॅल का पालन कराया जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि उपासना स्थलों में लोग मास्क अवश्य पहनें। साथ ही, धर्म स्थलों पर साफ-सफाई के विशेष प्रबन्ध रहें। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना फ्रंटलाइन वर्कर्स को संक्रमण से सुरक्षित रखने के लिए सभी प्रबन्ध किए जाएं। यह सुनिश्चित किया जाए कि फ्रंटलाइन वर्कर्स मास्क तथा ग्लव्स का अनिवार्य रूप से उपयोग करें। उन्होंने बस स्टेशन, रेलवे स्टेशन तथा हवाई अड्डों पर इंफ्रारेड थर्मामीटर तथा पल्स आक्सीमीटर की उपलब्धता बनाए रखते हुए इन स्थानों पर लोगों की प्रभावी ढंग से स्क्रीनिंग करने के निर्देश दिए हैं।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: