March 6, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

चाईबासा में सीएसआर के तहत निर्मित 8 बेड आईसीयू कक्ष का किया गया लोकार्पण

चाईबासा:- झारखंड राज्य की महिला, बाल-विकास मंत्री आज जोबा माझी एवं सिंहभूम क्षेत्र की सांसद गीता कोड़ा के द्वारा जिला उपायुक्त अरवा राजकमल, पुलिस अधीक्षक अजय लिंडा, चाईबासा विधायक दीपक बिरुवा, मझगांव विधायक निरल पूर्ति, जगन्नाथपुर विधायक सोनाराम सिंकु, सिविल सर्जन डॉ ओम प्रकाश गुप्ता, अपर उपायुक्त श्री एजाज़ अनवर की उपस्थिति में सदर अस्पताल, चाईबासा के इमरजेंसी वार्ड में सीएसआर के तहत निर्मित 8 बेड वाले आईसीयू कक्ष का लोकार्पण किया गया। उक्त अवसर पर जिला सर्विलांस पदाधिकारी डॉ संजय कुजूर, सदर प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारी डॉ जगन्नाथ हेंब्रम सहित चिकित्सा पदाधिकारी एवं कर्मी उपस्थित रहे।
लोकार्पण के उपरांत मंत्री माझी ने कहा कि सदर अस्पताल में आईसीयू कक्ष का निर्माण एक सराहनीय कदम है और जिला प्रशासन को इसके लिए मैं बधाई देती हूं। यह काफी खुशी की बात है कि जिले कि किसी भी भाई-बहन को अब आईसीयू सुविधा के लिए जिला से बाहर नहीं जाना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि इस कार्य हेतु अस्पताल के सभी चिकित्सा पदाधिकारी को भी धन्यवाद देती हूं और उम्मीद करती हूं कि आप इसी सेवाभाव से आगे भी काम करते रहेंगे।
इस मौके पर सांसद गीता कोड़ा ने कहा कि आईसीयू कक्ष का निर्माण देख कर अच्छा लगा कि कंपनी के द्वारा सीएसआर के तहत जन कल्याण के कार्य किए जा रहे हैं। नहीं तो पहले का सोच यही था कि रोड और नाली ही सीएसआर के तहत बन जाए। उन्होंने कहा कि सदर अस्पताल के इमरजेंसी में आईसीयू के निर्माण में जिला प्रशासन एवं अस्पताल प्रबंधन लगे रहे और यह इस जिला के लिए स्वास्थ्य के क्षेत्र में बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने कहा कि अब अपने जिला में ही एकदम सस्ते दर पर डायलिसिस की सुविधा भी उपलब्ध है जोकि जिले में स्वास्थ्य के क्षेत्र में हो रहे विकास कार्यों को दर्शाती है।
लोकार्पण के अवसर पर उपायुक्त ने बताया कि आईसीयू कक्ष का निर्माण जिले के स्वास्थ्य विभाग के लिए एक वरदान साबित होगा विशेषकर जो दुर्घटनाएं होती हैं या विकट परिस्थिति में जब बड़े-बड़े अस्पताल लोगों को डिस्चार्ज कर देता हैं, वैसे लोगों को यहां रखने का एक अच्छा व्यवस्था रहेगा। आईसीयू कक्ष के निर्माण में सीएसआर के तहत सहयोग करने हेतु यूरेनियम कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड को भी उपायुक्त के द्वारा धन्यवाद दिया गया तथा कहा गया कि यह एक रोल मॉडल की तरह है कि जिले में सीएसआर के माध्यम से भी एक बेहतर कार्य किया जा सकता है।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: