अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

हाथियों के झुंड ने गांव में मचाया उत्पात, तीन घरों के दरवाजे तोड़े


हजारीबाग:- पांच जगली हाथियों का झुंड कटकमसांडी प्रखंड क्षेत्र के बाझा पंचायत के खरिका गांव में आ घुसकर उत्पात मचाया। यहां हाथियों ने तीन घरों के दरवाजे को तोड़ डाला और अंदर रखे अनाज को खा गए। घर के सदस्य कोने में छिपकर अपनी जान बचाई। लोगों ने फोन कर पड़ोसियों को इसकी जानकारी दी। जब तक आसपास के लोग बाहर निकलते, हाथी वहां से चले गए। पीड़ित जकरियस टूटी, फागु मुंडा और बिशुन मुंडा के घर को हाथियों ने क्षतिग्रस्त भी कर दिया। जकरियस टूटी ने बताया कि हम सभी खाना खाकर बुधवार की रात करीब 10 बजे सो गए। इसके कुछ देर बाद ही बीच घर का दरवाजा तोड़ने की आवाज आई। अचानक हम लोग नींद से उठे और लगा कि कोई चोर आकर दरवाजा तोड़ रहा है। जैसे ही हम लोग उठे और टॉर्च जलाया तो देखा सामने विशालकाय जंगली हाथियों का दल खड़ा है और पूरे दरवाजे को तोड़ दिया है। घर में रखा चावल को हाथी सूढ़ से खींच कर बाहर ले जा रहे हैं। इसके बाद हाथियों ने पड़ोसी फागुन मुंडा और बिशुन मुंडा के घर पर भी हमला कर दरवाजे को तोड़ दिया और अंदर रखे धान, चावल और अरहर को निकाल कर खा गए। जानकारी पाकर आज सुबह बाझा मुखिया लीलो सिंह भोक्ता भी प्रभावित
परिवारों से मिले और नियमानुसार मदद करने का भरोसा दिया। अपने घर से प्रभावित परिवारों को तत्काल भोजन बनाने के लिए 10 किलो चावल उपलब्ध कराया। वहीं, वन्य जीव संरक्षण क्षेत्र के रेंज ऑफिसर सुरेश प्रसाद ने बताया कि नुकसान का आकलन कर प्रभावित ग्रामीणों को वन विभाग के नियमानुसार उचित मुआवजा दिया जाएगा।

%d bloggers like this: