अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

संघीय ढांचा को कमजोर कर रही है हेमन्त सरकार- दीपक प्रकाश


बैक डेट से हेमन्त सरकार ने कराया मुकदमा
रांची:- भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद दीपक प्रकाश ने हेमन्त सरकार को संघीय ढांचा तोड़ने का आरोप लगाया है। प्रदेश कार्यालय में प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि लोकतंत्र की मंदिर में तुष्टिकरण की राजनीति अनुचित है। विधानसभा में जनता के लिए प्रतिबद्ध हो सरकार। झारखंड की देवतुल्य जनता की आवाज बनकर भारतीय जनता पार्टी ने तुष्टिकरण राजनीति के खिलाफ बिगुल फूंकने का कार्य किया। विधान सभा घेराव के दौरान अनुशासित और शान्तिपूर्ण ढ़ंग से प्रदर्शन कर रहे भाजपा कार्यकर्ताओं पर लाठी चलाना सरकार की असंवैधानिक मानसिकता को दर्शाता है। पुलिस ने सब्र खोया, हेमन्त सरकार के इशारे पर निशाना बनाकर पुलिस ने लाठी चार्ज किया। महिला कार्यकर्ताओं के कपड़े फाड़े गए। मुझे और बाबूलाल मरांडी को टारगेट कर हमपर लाठियां बरसायी गयी। यह सारी घटनाएं मुख्यमंत्री के इशारे पर किया गया। पुलिस की भूमिका उस वक्त महादैत्य की तरह लग रही थी।
सरकार एक तरफ निहत्थे कार्यकर्ता पर लाठी चलाने का कार्य किया तो दूसरी ओर फर्जी मुकदमे लादे जा रहे हैं। बैक डेट से मुकदमा दायर किया गया है। भ्रष्ट सीओ के फर्जी स्क्रिप्ट पर एफआईआर किया गया जो विस् घेराव के दौरान मौजूद भी नहीं थे। उन्होंने कहा कि भर्ष्टाचार, कुशासन, आदिवासी विरोधी, महिला विरोधी, किसान विरोधी, युवा विरोधी, विकास विरोधी सरकार के खिलाफ भाजपा का संघर्ष जारी रहेगा। संघर्ष का दूसरा नाम भारतीय जनता पार्टी है। सरकार एक मतवाले हाथी की तरह राज्य में काम कर रही है। उन्होंने नमाज कक्ष को लेकर बनाए गए सात सदस्यीय कमेटी को लेकर कहा कि विस् अध्यक्ष अपने ही आदेश की समीक्षा करवा रहे हैं यह विडंबना है। हालांकि कमेटी बनाए जाने पर कहा कि यह भाजपा के संघर्ष का प्रतिफल है।
श्री प्रकाश ने कोयले के बकाए के सवाल पर कहा कि 70 साल तक देश पर शासन करने वाली कांग्रेस पार्टी व सम्मानित नेता व तत्कालीन केंद्रीय मंत्री शिबू सोरेन के कार्यकाल में कितना पैसा बकाया था। उन्होंने कहा कि डीएमएफटी के द्वारा जो पैसा आ रहा है वह पहले आता था क्या? उन्होंने कहा कि हेमन्त सरकार अपनी विफलताओं को छुपाने के लिए तुष्टिकरण की राजनीति, केंद्र सरकार पर दोषारोपण कि राजनीति कर रही है। संघीय ढांचा तोड़ने का कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि हेमन्त के झूठे वादे की वीडियो गांव गांव तक लेकर जाएंगे। हेमन्त सरकार के ऊपर न्यायपालिका की टिप्पणी स्पष्ट करती है कि सरकार कागजों पर चल रही है। उन्होंने कहा कि तुष्टिकरण करते हुए कांग्रेस के वोट बैंक में सेंधमारी कर रही है झामुमो। कांग्रेस झामुमो में अंदर अंदर सब कुछ ठीक नहीं है।
सदन में हुआ बाबा साहब की भावनाओं का अपमान
प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए पुर्व मंत्री व अनुसूचित जाति मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष व चंदनकियारी के विधायक अमर बाउरी ने कहा कि विधानसभा में नियोजन,भ्रष्टाचार, रोजगार, को लेकर हेमन्त सरकार को जवाब देना था। साजिश के तहत सदन चलने नहीं दिया। उन्होंने कहा कि तुष्टिकरण के तहत उर्दू शिक्षा प्राप्त करने वालों के लिए नियोजन नीति लाया गया है। आदिवासी व हिंदी भाषी पर हमला है। उन्होंने कहा कि नियोजन नीति, बेरोजगारी, तुष्टिकरण की नीति और नमाज कक्ष को लेकर विस् में कार्यस्थगन का प्रस्ताव लाया था किंतु दलित विधायक समझ कांग्रेस के विधायकों ने हूटिंग किया। कांग्रेस ने दलितों को वोट बैंक समझ कर उपयोग किया। दलितों को जूती बनाकर रखा ,सदैव अपमानित करने का कार्य किया है। कांग्रेस की कुंठित मानसिकता का परिणाम है कि सूबे में कांग्रेस एक भी दलित विधायक सांसद नहीं है। उन्होंने कहा कि जब विधायक को इस तरह से अपमानित किया जा सकता है तो आम दलितों की स्थिति क्या होगी समझा जा सकता है। यशस्वी प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी जी के शासन काल में दलितों को उनका सही अधिकार प्राप्त हो रहा है। बाबा साहब के सपने को मोदी जी की सरकार साकार कर रही है। इस प्रेस वार्ता में मीडिया प्रभारी शिवपूजन पाठक, प्रदेश प्रवक्ता प्रतुलनाथ शाहदेव शामिल थें।

%d bloggers like this: