June 21, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

हेमन्त सरकार टीएसी को दंतविहीन बनाने का कर रही है प्रयासः अर्जुन मुंडा

रांची:- धरती आबा बिरसा मुंडा के पुण्यतिथि पर अनुसूचित जनजाति मोर्चा के द्वारा प्रदेश कार्यालय में आयोजित श्रद्धांजलि सह जनजाति उलगुलान समारोह कार्यक्रम के मुख्य वक्ता के रूप में दिल्ली से वर्चुवल माध्यम से जुड़े केंद्रीय मंत्री मंत्री अर्जुन मुंडा ने धरती आबा बिरसा मुंडा की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि व्यक्त करते हुए कहा कि बिरसा मुंडा ने शोषण के खिलाफ अंग्रेजों के विरुद्ध उलगुलान किया। उन्होंने कहा कि भगवान बिरसा मुंडा के सपने को साकार करने के लिए भाजपा दृढसंकल्पित है। इस देश में साढ़े दस करोड़ से ज्यादा जनजाति के लोग हैं जिन्हें 9वें शेड्यूल में उनके हक और अधिकार को सुरक्षित रखा गया है। धारा 242 में राष्ट्रपति को भी उत्तरदायित्व बनाया गया है। साथ ही
ट्राइबल एडवाइजरी कमिटी को भी विशेष अधिकार दिए गए हैं। उन्होंने आदिवासियों के अधिकार पर चर्चा करते हुए कहा कि राज्य के आदिवासी समाज के लोगों को समझना होगा कि राज्य की हेमन्त सरकार हमारे हक अधिकार किस तरह से मार रही है। जनजातीय समाज को जागरूकता का परिचय देने का समय आ गया है। उन्होंने कहा कि बिरसा मुंडा ने एक तरफ संघर्ष तो दूसरी तरफ शांति के साथ जीवन यापन का भी सूत्र दिया। उन्होंने हेमंत सरकार द्वारा टीएसी में किए गए छेड़छाड़ को लेकर भी सवाल उठाया उन्होंने कहा कि टीएसी को दंत विहीन बनाने का प्रयास किया जा रहा है। ऐसे में जनजाति मोर्चा की जिम्मेवारी बढ़ गई है।

36 हजार आदर्श ग्राम व प्रत्येक प्रखंड में एकलव्य विद्यालय
उन्होंने कहा कि मंत्रालय ने 36000 गांव को आदर्श ग्राम बनाने की योजना बनाई है। जिसमें 5 सालों में आधारभूत संरचना, रोजगार का बढ़ावा, शिक्षा, स्वास्थ्य, पेयजल की पूर्ण व्यवस्था, नेटवर्क व्यवस्था समेत 55 व्यवस्था सुनिश्चित करेगा। प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के तहत कार्य होंगे। प्रत्येक वर्ष 7000 गांव आदर्श ग्राम बनाया जाएगा। जनजातियों बच्चों के लिए नवोदय विद्यालय के तर्ज पर प्रत्येक प्रखंड में एक एकलव्य विद्यालय बनाने का निर्णय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में लिया गया है। उन्होंने कहा कि बिरसा मुंडा जी के पुण्यतिथि पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनजातीय विकास हेतु एक बैठक भी बुलाई है इसमें कई फैसले लिए जाएंगे।
हेमन्त सरकार में सबसे ज्यादा आदिवासियों पर हुआ जुल्मः दीपक प्रकाश कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित प्रदेश अध्यक्ष सह सांसद दीपक प्रकाश ने कहा कि भगवान बिरसा मुंडा ने देश के लिए, समाज के लिए और अपनी संस्कृति, आदिवासी और आदिवासियत के लिए अपनी जान न्यौछावर कर दी। मात्र 25 साल की उम्र में अंग्रेजो के खिलाफ लोहा लेते लेने का कार्य किया।किन्तु झारखंड के स्वतंत्रता सेनानियों के साथ देश के इतिहासकारों ने न्याय नहीं किया। झारखंड के शहीदों को इतिहास के पन्ने पर वह स्थान नहीं मिला जो उन्हें मिलना चाहिए था। उन्होंने कहा कि अंग्रेजों का पिट्ठू बनकर कार्य करने वाले ईसाई मिशनरियों, विदेशी पादरियों के खिलाफ धर्मांतरण के खिलाफ और देश की आजादी के लिए भगवान बिरसा मुंडा ने जोरदार संघर्ष किया और ऐसे सभी लोगों को खदेड़ने का काम किया।
श्री प्रकाश ने कहा कि भगवान बिरसा मुंडा के सिद्धांत को सिर्फ और सिर्फ भारतीय जनता पार्टी ने आत्मसात करने का काम किया। भारतीय जनता पार्टी का भी वही उद्देश्य है जो भगवान बिरसा मुंडा का था। उन्होंने कहा कि भाजपा का संकल्प है आदिवासियों का पूर्ण विकास। जब तक आदिवासियों का विकास नहीं होगा झारखंड का विकास नहीं हो सकता। आदिवासी समाज के हित में तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई ने आदिवासी समाज के लिए अलग मंत्रालय बनाने का कार्य किया। झारखंड को अलग राज्य का दर्जा दिया।
उन्होंने दुख जताते हुए कहा कि हेमंत सरकार में सबसे ज्यादा आदिवासियों पर हमले हो रहे हैं। आदिवासियों का धर्म परिवर्तन कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इन सबके पीछे हेमन्त सरकार मौन धारण कर प्रसय दे रही है। सरना समाज को तोड़ने का कार्य हेमंत सरकार कर रही है। उन्होंने कहा कि पादरी और पुजारियों को भाजपा की सरकार के मानदेय देने के फैसले पर हेमन्त सरकार ने विराम लगा दिया। चाईबासा नरसंहार में हेमंत सरकार ने चुप्पी साधे रखी, आदिवासी के नाम पर बनी सरकार आदिवासियों पर जुल्म ढहाने का काम कर रही है। हेमंत सरकार में अब तक सबसे ज्यादा आदिवासी बहनों के साथ दुष्कर्म के मामले सामने आए। रूपा तिर्की मामले में भी हत्यारे को बचाने का काम हेमंत सरकार कर रही है।
अनुसूचित जनजाति मोर्चा के द्वारा प्रदेश कार्यालय में धरती आबा बिरसा मुंडा जी की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि सह जनजाति उलगुलान समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें धरती आबा बिरसा मुंडा अमर रहे का नारा लगाते हुए प्रदेश कार्यालय में तश्वीर पर माल्यार्पण किया गया। इससे पूर्व बिरसा चौक, बिरसा समाधि स्थल, जेल चौक स्थित मृत्यु स्थान जेल में बिरसा मुंडा के प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया। साथ ही पूरे प्रदेश में 500 से ज्यादा स्थान पर श्रद्धांजलि कार्यक्रम का आयोजन किया गया।
इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप से माननीय प्रदेश अध्यक्ष सांसद श्री दीपक प्रकाश एवं मुख्य वक्ता के रूप में माननीय केंद्रीय मंत्री श्री अर्जुन मुंडा वर्चुअल माध्यम से शामिल हुए। कार्यक्रम में उपस्थित सभी अतिथियों के द्वारा बिरसा मुंडा जी के चित्र पर श्रद्धा सुमन अर्पित किया गया।तत्पश्चात वंदे मातरम गया है।अतिथियों का स्वागत पारंपरिक तरीके से किया गया। कार्यक्रम में मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष सह पूर्व विधायक शिवशंकर उराँव, मोर्चा प्रभारी सह पूर्व विधायक रामकुमार पाहन, अशोक बड़ाईक, संचालन मोर्चा महामंत्री बिंदेश्वर उराँव ने किया।कार्यक्रम में नकुल तिर्की,बिरसा मिंज, प्रेम बड़ाइक,राजेन्द्र मुंडा,रवि मुंडा,रोशनी खलखो महानगर अध्यक्ष अर्जुन मुंडा,शिला मुंडा,सुलेन गाड़ी आदि कई कार्यकर्ता उपस्थित थें।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: