अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

यूपी में भारी बारिश से जनजीवन अस्तव्यस्त,पांच मरे


लखनऊ:- राजधानी लखनऊ समेत उत्तर प्रदेश के अधिसंख्य इलाकों में हो रही बारिश से जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। बारिश से कई मकान जमीदोज हो गये है जबकि पेड़ और बिजली के खंभे गिरने से कई इलाकों में विद्युत व्यवस्था चरमरा गयी। वर्षाजनित हादसों में कम से कम पांच लोगों के मारे जाने और कई के घायल होने की सूचना है। मौसम विभाग ने बारिश का दौर कम से कम अगले 24 घंटे तक जारी रहने की संभावना जतायी है। बारिश से साग सब्जियों को भारी नुकसान होने की संभावना है हालांकि भादों के महीने में हो रही झमाझम बरसात खरीफ की फसल के लिये मुफीद मानी जा रही है। बारिश के चलते राज्य के अधिसंख्य इलाकों के तापमान में सात डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट दर्ज की गयी है। वर्षाजनित हादसों मे जौनपुर में चार और प्रयागराज में एक व्यक्ति के मारे जाने की सूचना है। लखनऊ, कानपुर, प्रयागराज, अयोध्या, बाराबंकी, जौनपुर और कुशीनगर समेत राज्य के कई जिलों में तेज हवाओं के साथ हो रही बारिश से कई इलाके टापू की शक्ल में तब्दील हो चुके हैं। राज्य के कई इलाकों में स्कूलों में रेनी डे घोषित कर दिया गया है जबकि दफ्तर जाने वालों को भारी मुसीबत का सामना करना पड़ा। बाजार भी देर से खुले लेकिन अधिकतर व्यापारी ग्राहकों की बाट जोहते नजर आ रहे हैं।
लखनऊ में भारी बरसात के बीच मुख्यमंत्री आवास के समीप पार्क रोड, सिविल अस्पताल, नरही, डालीबाग, जियामऊ और हजरतगंज समेत कई इलाके टापू की शक्ल में तब्दील हो गये। पार्क रोड पर घुटनो तक पानी भरने से कई वाहन बीच रास्ते में बंद हो गये। जल जमाव के चलते सिविल अस्पताल में ओपीडी सेवायें बुरी तरह प्रभावित हुयी। सप्रू मार्ग में पेड़ गिरने से यातायात बाधित हो गया। एलडीए कालोनी में बरसात का पानी घरों में प्रवेश कर गया। लखनऊ के नगर आयुक्त जलभराव का जायजा लेने सड़क पर निकले मगर यह सिर्फ औपचारिकता मात्र साबित हुआ। उधर लखनऊ कमिश्नरेट ने लोगों से बिजली के खंभों से दूर रहने की चेतावनी जारी की। लोगों से घरों में रहने और बहुत जरूरी होने पर बाहर निकलने की अपील की जा रही है।
बारिश के चलते सड़क,रेल और हवाई यातायात प्रभावित हुआ। अमौसी हवाई अड्डे पर कई उड़ाने रद्द कर दी गयी वहीं रेल पटरियों पर पानी भरने से लखनऊ झांसी इंटरसिटी एक्सप्रेस को मानकनगर रेलवे स्टेशन से कुछ दूरी पर करीब एक घंटे तक रोकना पड़ा। बारिश के चलते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का बाराबंकी दौरा टाल दिया गया।
अयोध्या में सुबह नौ बजे तक दो सेमी से ऊपर वर्षा रिकार्ड की जा चुकी थी जबकि रायबरेली के फुर्सतगंज में 186़ 3 मिमी, लखनऊ में 157़ 2 मिमी, सुलतानपुर में 138़ 4 मिमी, बांसगांव गोरखपुर में 142 मिमी, संतकबीरनगर जिले के घनघटा में 128 मिमी बारिश दर्ज की गई है। लगातार हो रही वर्षा से गंगा,यमुना,घाघरा,सरयू और गोमती नदी के जलस्तर में बढोत्तरी दर्ज की जा रही है।
जौनपुर में कई कच्चे मकान जमीदोज हो गये जिनके मलबे में दब कर एक परिवार के तीन सदस्यों समेत चार लोगों की मौत हो गयी जबकि कई अन्य गंभीर रूप से घायल हो गये। सुजानगंज थाना क्षेत्र के सरायखानी गांव निवासी भरत लाल जायसवाल (38) परिवार के सदस्यों के साथ सो रहे थे कि तड़के करीब चार बजे कच्चे मकान की दीवार ढह गई। इस हादसे में भरत लाल, पत्नी गुलाबा देवी (34) और बेटी साक्षी (10) की मौत हो गयी जबकि भाभी रेखा देवी (45) और भांजी काजल (12) की हालत गंभीर बनी हुयी है। एक अन्य घटना में सिकरारा थाना क्षेत्र के सकल देल्हा गांव में दीवार गिfरने से उर्मिला देवी (47) की मौत हो गयी।
प्रयागराज में रूक-रूक कर हो रही बारिश के बीच मुट्ठीगंज क्षेत्र में एक जर्जर मकान के ढ़हने से अनीता सौंदिया (55) की मौत हो गयी जबकि उसका पुत्र घायल हो गया। झांसी,ललितपुर,वाराणसी,प्रयागराज,गाजियाबाद, इटावा, संतकबीरनगर,महराजगंज,बांदा,महोबा समेत कई इलाकों में आसमान में बादल छाये है और रूक रूक कर वर्षा का दौर जारी है।

%d bloggers like this: