अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

सांसद निशिकांत की पत्नी के नाम से जमीन मामले में हाईकोर्ट में हुई सुनवाई


अदालत ने म्यूटेशन रद्द करने पर सरकार से मांगा जवाब
रांची:- सांसद निशिकांत दूबे की पत्नी अनामिका गौतम की ओर से धन्यभूति इंटरप्राइजेज के नाम से जमीन खरीदने से जुड़े मामले में हाइकोर्ट में सुनवाई हुई। कोर्ट ने उनके अमेंडमेंट पिटीशन को स्वीकार कर लिया है। इस रिट पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने सरकार से जवाब मांगा है। मामले की अगली सुनवाई के लिए 13 सितंबर की तारीख तय की गई है। प्रार्थी अनामिका गौतम के अधिवक्ता प्रशांत पल्लव ने बहस के दौरान अदालत को बताया कि देवघर डीसी ने अपने अधिकार क्षेत्र से बाहर जानकर उनकी भूमि का म्यूटेशन रद्द किया है। प्रार्थी की इस बात का विरोध करते हुए महाधिवक्ता राजीव रंजन ने अदालत को बताया कि एसपीटी एक्ट में डीसी को यह अधिकार है। दोनों पक्षों को सुनने के बाद कोर्ट ने प्रार्थी को अमेंडमेंट रिट दायर करने का निर्देश दिया है। देवघर उपायुक्त ने धन्यभूमि इंटरप्राइजेज के नाम से खरीदी गई जमीन को रैयती जमीन मानते हुए एविक्शन की कार्रवाई शुरू की है। इसके खिलाफ अनामिका गौतम की ओर से हाई कोर्ट में याचिका दाखिल की गई है। याचिका में कहा गया है कि पूर्व में उपायुक्त ने सेल डीड को रद्द करने की कार्रवाई शुरू की गई थी। इस मामले में हाईकोर्ट ने पूर्व में रोक लगा दी थी। उसके 10 दिन बाद देवघर उपायुक्त ने एसपीटी एक्ट के तहत रैयती जमीन बताकर एविक्शन की कार्रवाई शुरू कर दी गई है। जबकि याचिका में कहा गया है कि उक्त जमीन मूल रैयती जोत जमीन है। इसलिए उपायुक्त के आदेश पर रोक लगाते हुए उसे निरस्त किया जाए।

%d bloggers like this: