अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कहर : आकाशीय बिजली गिरने से यूपी में 40 लोगों की मौत, 38 मवेशियों की भी जान गई

लखनऊ:- प्रदेश के कई जिलों में रविवार को आकाशीय बिजली ने कहर ढा दिया। कुल 40 लोगों की मौत हो गई है। कानपुर व आसपास के जिलों में 18, प्रयागराज में 13, कौशाम्बी में तीन, प्रतापगढ़ में एक, आगरा में तीन और वाराणसी व रायबरेली जिले में एक-एक व्यक्ति की जान चली गई। आकाशीय बिजली गिरने से कई लोग घायल भी हुए हैं। सबसे ज्यादा नुकसान कानपुर मंडल में हुआ है। कानपुर देहात में भोगनीपुर तहसील के अलग-अलग गांवों में पांच, घाटमपुर में एक, फतेहपुर जिले में सात और हमीरपुर के ऊपरी ग्राम में दो लोगों की मौत हो गई।
बांदा कोतवाली क्षेत्र के मोतियारी गांव में 13 वर्षीय बच्ची और उन्नाव के सराय बैदरा गांव में दो बच्चों की जान चली गई। घाटमपुर में 38 मवेशियों की भी मौत हुई है। प्रयागराज में गरज-चमक के साथ हुई बारिश के दौरान अलग-अलग इलाकों में आकाशीय बिजली गिरने से 13 लोगों की मौत हो गई और चार लोग घायल हुए हैं। घायलों का अस्पताल में इलाज चल रहा है।
प्रयागराज के भगेसर में 13 वर्षीय रामराज व 12 वर्षीय पुष्पेंद्र कुमार, महुली गांव में 65 वर्षीय राम मूरत की वज्रपात से मौत हो गई। वहीं बारा के करिया कलां में कामता प्रसाद, रेरा में विमलेश कुमार व लोगहगरा में हरीश चंद्र, करछना के रोकड़ी में त्रिभुवन नाथ, सोरांव के सुल्तानपुर में आरती कुमारी, दादनपुर में रंजना, कमालपुर में संगीता, चकबाहर में कमलादेवी, मलाक बेला में मालती देवी व गीता देवी और कौशाम्बी के पुरखास में रामचंद्र, अकबराबाद गुसैली में मूरतध्वज, पश्चिम शरीरा में मयंक उर्फ शनि (14) और प्रतापगढ़ के मंगापुर में आशाराम की मौत हो गई। एडीएम वित्त एवं राजस्व एमपी सिंह का कहना है कि 11 मवेशियों की भी जान चली गई है।

%d bloggers like this: