January 21, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

ड्राई रन की तैयारियों का जायज़ा लेने चेन्नई के अस्पताल पहुंचे हर्षवर्धन, पीएम को किया धन्यवाद

नयी दिल्ली:- देश में कोरोना वैक्सीनेशन जल्द शुरू होने वाली है। इसी के तहत आज देश के सभी 736 जिलों में ड्राई रन किया जा रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने खुद चेन्नई के राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में पहुंचकर जमीनी स्तर पर पूर्वाभ्यास का आंकलन किया। इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अधिकारियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स का धन्यवाद किया।

हर्षवर्धन ने दूसरे राष्ट्रव्यापी पूर्वाभ्यास के लिए वीरवार को राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्रियों, प्रधन सचिवों और अतिरिक्त मुख्य सचिवों से इसकी गहरी निगरानी करने और व्यक्तिगत ध्यान देने के लिए कहा था। स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक बयान में कहा था कि पूर्वाभ्यास 33 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 736 जिलों में आयोजित किए जाएंगे। मंत्रालय ने कहा कि कोविड-19 टीकाकरण के पूर्वाभ्यास का उद्देश्य वास्तविक टीकाकरण कार्यक्रम का अभ्यास करना है। इस अभ्यास में राज्य, जिला, प्रखंड और अस्पताल स्तर के अधिकारियों को कोविड-19 टीकाकरण के सभी पहलुओं से भी अवगत कराया जाएगा। मंत्रालय ने कहा कि यह गतिविधि टीकाकरण के नियोजन, कार्यान्वयन और सूचना तंत्रों के बीच की कड़ी को मजबूत करने, वास्तविक कार्यान्वयन से पहले किसी भी चुनौतियों की पहचान करने और टीकाकरण अभियान के सुचारू क्रियान्वयन के लिए सभी स्तरों पर कार्यक्रम प्रबंधकों को विश्वास प्रदान करने में मदद करेगी। हर्षवर्धन ने टीके के दुष्प्रभावों के बारे में सोशल मीडिया पर आईं अफवाहों को खारिज करते हुए लोगों को इससे सतर्क रहने की अपील की। उन्होंने कोविड-19 टीके को लेकर सही जानकारी फैलाने के लिए राज्य के स्वास्थ्य अधिकारियों से विभिन्न हितधारकों और युवाओं के साथ काम करने का आग्रह किया ताकि अफवाहों और अविश्वास को दूर किया जा सके। हर्षवर्धन शुक्रवार को तमिलनाडु का दौरा करेंगे। उन्होंने जमीन पर काम करने वाले अग्रिम मोर्चे के कर्मियों के अथक परिश्रम के लिए सराहना की। न्होंने यह भी उल्लेख किया कि कैसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ओजस्वी और मजबूत नेतृत्व ने यह सुनिश्चित किया है कि भारत न केवल दुनिया में सबसे अधिक रिकवरी दर वाला देश बना गया है, बल्कि दूसरे देशों के लिए आशा की किरण भी है जो महामारी से निपटने के लिए भारत के एन95 मास्क, पीपीई किट के निर्यात पर निर्भर हैं।

Recent Posts

%d bloggers like this: