अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

जेल में बंद मदर टेरेसा ट्रस्ट के प्रमुख हरपाल की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

ट्रस्ट के बच्चों ने लगाया था यौन उत्पीड़न का आरोप

जमशेदपुर:- झारखंड में जमशेदपुर के घाघीडीह जेल में बंद मदर टेरेसा वेलफेयर ट्रस्ट के प्रमुख हरपाल सिंह थापर की मौत संदिग्ध परिस्थतियों में शुक्रवार की देर रात हो गयी। मौत से हरपाल सिंह थापर के परिजन खासे आक्रोशित है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार मदर टेरेसा वेलफेयर ट्रस्ट के प्रमुख हरपाल सिंह थापर पर उनके ट्रस्ट की दो नाबालिग लड़कियों ने वहां से भागने के बाद दुष्कर्म और उत्पीड़न का आरोप लगाया था। मामला सामने आने के बाद पुलिस ने 15 जून को हरपाल सिंह थापर को मध्य प्रदेश से धर दबोजा था और 16 जून को जमशेदपुर कोर्ट में पेश करने के बाद थापर, उसकी पत्नी पुष्पा तिर्की और उसके बेटे समेत एक अन्य सहयोगी को घाघीडीह जेल भेज दिया था।
जेल में बंद पुष्पा तिर्की ने अपने अधिवक्ता को पति की मौत की सूचना दी। शव को जमशेदपुर स्थित एमजीएम अस्पताल में रखा गया है और आज उसे पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजनों को सौंप दिया जाएगा। परिजनों का कहना है कि शुक्रवार की रात में ही हरपाल सिंह को जेल प्रशासन द्वारा एमजीएम अस्पताल लाया गया था, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। परिजनों का आरोप है कि जेल प्रशासन ने मौत की जानकारी छिपाई थी और बीमारी की वजह भी परिजनों को नहीं बतायी। परिजनों ने जेल में पिटाई का भी आरोप लगाया है।
टेल्को घोड़ाबांधा स्थित शमशेर टावर में थापर और उनकी पत्नी ट्रस्ट का संचालन करते थे, जिसमें करीब 40 बच्चे रहनते थे। बाद में पुलिस ने उसे सील करते हुए सभी बच्चों को सुरक्षित दूसरी जगह शिफ्ट करा दिया था।

%d bloggers like this: