अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

अपहरण समेत अन्य मामलों के आरोपी हार्डकोर अपराधी दो सहयोगियों के साथ गिरफ्तार


अलग उग्रवादी संगठन बनाकर खुश्तर अंसारी क्षेत्र में आतंक का पर्याय बना हुआ था
गढ़वा:- झारखंड में गढ़वा जिले कीपुलिस ने सड़क निर्माण कर रही वीआरएस कंपनी के इंजीनियर का अपहरण करने, उसके साइट पर पहुंचकर सामानों को जलाने, तोड़फोड़ करने व कर्मचारियों के साथ मारपीट के मुख्य सरगना खुश्तर अंसारी को उसके दो सहयोगियों के साथ गिरफ्तार करने में सफलता पायी है।
गिरफ्तार अपराधी के पास से दो देसी कट्टा, एक देसी पिस्तौल, आठ एमएम का 18 चक्र गोली, लैबटॉप, प्रिंटर, डायरी, चार मोबाइल, मोटरसाइकिल एवं भारतीय पब्लिक कम्युनिस्ट पार्टी मार्क्सवाद जोनल पलामू का लेटर पैड बरामद किया है। लेडर पैड पर लाल स्याही से धमकी भरा पत्र भी बरामद किया गया है।
पुलिस अधीक्षक अंजनी कुमार झा ने शनिवार को संवादाता सम्मेलन में बताया कि गिरफ्तार मुख्य सरगना खुश्तर अंसारी धुरकी थाना क्षेत्र का रहने वाला है, जबकि उसके दो सहयोगियों की पहचान उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिला के दुद्धी थाना क्षेत्र के बदहाल गांव निवासी चंद्रदेव गौड़ और डंडई थाना क्षेत्र के तकरार गांव निवासी महफूज अंसारी के रूप में हुआ है।
एसपी ने बताया कि शुक्रवार को दोपहर 12ः10 बजे नगरउंटारी थाना प्रभारी पंकज कुमार तिवारी को पुलिस अधीक्षक गढ़वा के द्वारा गुप्त सूचना मिली थी कि तीन संदिग्ध युवक एक मोटरसाइकिल से यूपी के विंढमगंज की ओर से नगरउंटारी की ओर किसी गंभीर घटना को अंजाम देने आनेवाले हैं। इस सूचना पर वाहन चेकिंग के दौरान जब इन्हें रूकने का इशारा किया गया, तो तीनों रुकने के बजाय भागने का प्रयास करने लगे। इसमें एक युवक भागने में सफल रहा, जबकि शेष दो युवक को पकड़ लिया गया. दोनों युवक से नाम पूछा गया तो एक युवक ने खुश्तर अंसारी एवं दूसरा युवक चंद्रदेव गौड़ बताया।तलाशी के दौरान दोनों के पास से दो देसी कट्टा, आठ एमएम का गोली, एक देसी पिस्तौल, कारतूस आदि बरामद किया गया। दोनों से पूछताछ के बाद उनकी निशानदेही पर महफूज अंसारी को गिरफ्तार किया गया। उसके घर से भारतीय पब्लिक कम्युनिस्ट पार्टी मार्क्सवाद जोनल पलामू का 15 लेटर पैड और लैपटॉप प्रिंटर बरामद किया गया।
गौरतलब है कि खुश्तर अंसारी अपना उग्रवादी संगठन बनाकर धुरकी थाना क्षेत्र एवं आसपास के इलाके में आतंक का पर्याय बना हुआ था। वह धुरकी-बिलासपुर सड़क निर्माण को लेवी को लेकर बार-बार हिंसक घटना कर बाधित कर रहा था। इसको लेकर पुलिस को उसकी काफी दिनों से तलाश थी। उसकी गिरफ्तारी से पुलिस ने भी राहत की सांस ली है।

%d bloggers like this: