January 23, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

पटना में पले-बढ़े जेपी नड्डा की मेहनत लाई रंग

पटना:- बिहार में पले-बढ़े एक लाल ने इस बार बिहार चुनाव में कमाल कर दिया है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, जिनका बचपन पटना में बीता है और उनकी पढ़ाई-लिखाई भी पटना में ही हुई है, उन्होंने इस बार बिहार में सभी विपक्षी पार्टियों के छक्के छुड़ा दिये। इस बार के विधानसभा चुनाव में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने खूब पसीना बहाया। नड्डा की यह रणनीति काम आई और भाजपा पहली बार बिहार एनडीए में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी है।
पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने 11 अक्टूबर से बिहार में चुनाव प्रचार शुरू किया था। उन्होंने करीब 3400 किमी की दूरी तय कर चुनावी सभाएं कीं। जानकारों का कहना है कि बिहार में उन्होंने सौ से अधिक बड़ी-छोटी चुनावी सभाएं की हैं। सिर्फ चुनावी सभा ही नहीं बल्कि एनडीए गठबंधन उम्मीदवार की जीत दिलाने को लेकर रोड-शो किया। वैशाली, समस्तीपुर और दरभंगा जैसे जिलों के एनडीए प्रत्याशियों की जीत सुनिश्चित करने के लिए उन्होंने हाजीपुर और दरभंगा में रोड शो भी किये। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के रोड-शो में लोगों की भारी भीड़ उमड़ी थी।

नड्डा ने खूब बहाया पसीना:

जेपी नड्डा ने तेजस्वी यादव द्वारा किए जा रहे वादों पर बगैर उनका नाम लिए ही लगातार हमला बोला। कहा कि चुनाव हार जाना मंजूर है लेकिन गलत आश्वासन नहीं देंगे। भाजपा ने जब भी घोषणा की है तो उसे लागू किया है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने अपने भाषणों के दौरान लगातार केंद्र और बिहार में किए गए कार्यों का हवाला देकर जनता से एनडीए प्रत्याशियों को जिताने की अपील की थी। उन्होंने कहा था कि बिहार की तरक्की के लिए एनडीए के पक्ष में मतदान करें। एनडीए की जीत किसी व्यक्ति की जीत नहीं बल्कि बिहार की जीत होगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार में तेजी से विकास हुआ है और आगे भी होगा। हालांकि नड्डा लोगों को 15 साल पहले वाले जंगलराज की याद दिलाना नहीं भूलते थे।

Recent Posts

%d bloggers like this: