March 9, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

ग्रेग चैपल ने दिया बड़ा बयान, ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को प्राइमरी स्कूल में पढ़ने वाले बताया

नई दिल्ली:- भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया की सरजमीं पर लगातार दो सीरीज जीतकर इतिहास रच दिया है। ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर जिस तरह से भारतीय टीम के युवा खिलाड़ियों ने ऑस्ट्रेलिया के अनुभवी तेज गेंदबाजों का सामना किया उसकी हर कोई तारीफ कर रहा है। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान और दिग्गज खिलाड़ी ग्रेग चैपल ने ऑस्ट्रेलिया के युवा खिलाड़ियों को भारतीय युवा खिलाड़ियों के सामने स्कूली छात्र बताया। उन्होंने भारतीय खिलाड़ियों के खेल और उनके ज्जबे की तारीफ की है।
चैपल ने अखबार में लिखा कि हमारे क्रिकेटर भारतीय टीम के युवा खिलाड़ियों के मुकबाले कहीं पीछे हैं। हमें कंपटेटिव क्रिकेटर अंडर16 के बाद मिलनी शुरू होती है। लेकिन वहीं इस दौरान भारतीय युवा खिलाड़ी सीनियर टीम में जगह बनाने की कोशिश कर रहे होतें हैं। उनके पास काफी अच्छी सीखने की सुविधा है। जिस वजह से उनके युवा खिलाड़ी कम उम्र में ही देश की टीम में जगह बनाने के लिए तैयार रहते हैं। इससे उन्हें जल्द सफलता मिलती है और उम्मीदें भी काफी बढ़ जाती हैं।
चैपल ने भारतीय टीम की सफलता पर खिलाड़ियों पर बोर्ड द्वारा खर्च किए जाने वालें पैसे को भी माना। उन्होनें कहा कि भारतीय क्रिकेट टीम को तैयार करने के लिए बीसीसीआई को काफी मोटी रकम खर्च करनी पड़ती हैं इन खिलाड़ियो पर। वहीं ऑस्ट्रेलियन क्रिकेट बोर्ड शेफील्ड शिल्ड के दौरान 44 मिलियन डॉलर ही खर्च कर रही है। दोनों बोर्ड के बीच काफी अंतर हैं और पैसे के खर्च से ही साफ पता लगाया जा सकता है कि हममें और उनमें कितना अंतर हैं। इस सीरीज के दौरान डेब्यू करन वाले विल पुकोव्सकी और कैमरून ग्रीन अनुभव के क्षेत्र में प्राइमरी स्कूल के लगते हैं।
गौर हो कि ऑस्ट्रेलिया में भारतीय टीम के कई खिलाड़ी चोटिल हो गए थे जिस कारण टीम में कई युवा खिलाड़ियों को मौका मिला और। उन्होंने इस सुनहरे मौके को अच्छी चरह भुनाया और ऑस्ट्रेलिया जमीं पर शानदार प्रदर्शन किया। आखिरी टेस्ट मैच में शुभमन गिल, शार्दुल ठाकुर, मोहम्मद सिराज, वाशिंगटन सुंदर, और रिषभ पंत के शानदार प्रदर्शन ने आखिरी दिन मैच का रूख भारत की तरफ कर दिया।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: