अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

ऐप के जरिये हो सकेगी अनाज की गुणवत्ता की जांच


नयी दिल्ली:- थोक, खुदरा मंडियों और राशन की दुकानों पर कारोबारी और उपभोक्ता अब केवल फोटो खींचकर गेंहू, मक्का और बाजरा समेत कई अनाजों की गुणवत्ता जांच कर सकेंगे।
केंद्र सरकार के ‘मेक इन इंडिया’ अभियान के तहत विकसित किये गये ऐप ’’ऐग्रीरीच मोबाइल क्वालिटी चैकअप’’ का बुधवार काे यहां एक समारोह में लोकार्पण किया गया। इस ऐप को कृषि क्षेत्र की कंपनी सोहन लाल कमॉडिटी मैनेजमेंट ने विकसित किया है। प्रारंभ में इस पर गेहूं की गुणवत्ता जांची जा सकेगी। बाद में इस ऐप पर अन्य प्रमुख अनाज और दालों जैसे चना, मक्का, चावल, ग्वार, मूंग और तूअर आदि की जांच के लिए इसका इस्तेमाल किया जा सकेगा। कंपनी का दावा है कि खाद्यान्न के क्षेत्र में यह दुनिया में पहला ऐप है जिसकी मदद से कुछ मिनट में अनाज का मौके पर ही मूल्यांकन किया जा सकता है। गेंहू या किसी अन्य अनाज के दानों का फोटो खींचकर ऐप पर डालना होगा जिसके बाद उपभोक्ता को उसकी गुणवत्ता की रिपोर्ट प्राप्त हो जाएगी। कंपनी के मुख्यकार्यकारी अधिकारी संदीप सभरवाल ने कहा कि एग्रीरीच मोबाइल क्वालिटी चैक ऐप
से काराेबार से जुड़े सभी पक्षों जैसे प्रसंस्करण करने वालों, व्यापारियों, निर्यातकों, आयातकों, सरकारी एजेंसियों और वित्तीय संस्थानों – जैसे बैंक के लिए हर प्रकार से उपयोगी है। उन्होंने बताया कि ऐप के जरिए अनाज का मूल्यांकन क्षति, सिकुड़न, मुरझाया, अपरिपक्व अनाज, बाहरी पदार्थ तथा अन्य कई पैमाने जैसे मोटाई , लंबाई, रंग और बनावट के आधार पर होता है। उन्होंने कहा कि यह मूल्यांकन 90 प्रतिशत सटीक होता है। अभी यह ऐप साधारण अंग्रेज़ी में उपलब्ध है लेकिन जल्दी ही इसे कई भारतीय भाषाओं में भी उपलब्ध कराया जाएगा।

%d bloggers like this: