June 18, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कोविड-19 के पहले लहर से ही सरकार जांच बढ़ाने हेतु प्रयासरत

रांची:- हेमन्त सोरेन ने कहा कि कोरोना संक्रमण के पहले लहर से ही राज्य सरकार आरटीपीसीआर जांच मशीन बढ़ाने को लेकर गंभीर रही है। कोविड-19 के दूसरे लहर में संक्रमितों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है, यही कारण है कि जांच रिपोर्ट आने में थोड़ा विलंब हो रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जांच रिपोर्ट जल्द से जल्द लोगों को मिल सके इस निमित्त राज्य सरकार द्वारा आरटीपीसीआर जांच हेतु दो कोबास कंपनी के मशीनों के लिए ऑर्डर दिया गया है। यह मशीन जून माह के अंत तक राज्य में स्थापित किए जा सकेंगे।

ऑक्सीजन युक्त बेड की उपलब्धता पर पूरा फोकस

मुख्यमंत्री सोरेन ने कहा कि वर्तमान समय में रांची, धनबाद, जमशेदपुर जैसे बड़े शहरों में जीवन रक्षक दवाइयों से ज्यादा मेडिकल ऑक्सीजन की आवश्यकता पड़ रही है। जहां शुरुआती दौर में राज्य में मात्र 250 ऑक्सीजन युक्त बेड उपलब्ध थे आज हम राज्य के विभिन्न अस्पतालों में 10,000 से अधिक ऑक्सीजन युक्त बेड की व्यवस्था कर सके हैं। ऑक्सीजन युक्त बेड बढ़ाने का कार्य निरंतर किया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग ने प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर अफरा-तफरी के माहौल से हमें निकालने का काम किया है।

ऑक्सीजन फ्लोमीटर की उपलब्धता को लेकर किया जा रहा है प्रयास

मुख्यमंत्री ने कहा कि आप सभी ने ऑक्सीजन फ्लोमीटर (रेगुलेटर) की उपलब्धता के लिए अपने सुझाव दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि मेडिकल ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में होने के बावजूद रेगुलेटर की कमी होने के कारण इलाज में बाधा पहुंच रही है। राज्य सरकार द्वारा रेगुलेटर की उपलब्धता के लिए इंडो-डेनिश टूल रूम के साथ समन्वय बनाकर तथा राज्य के कई निजी कंपनियों के सहयोग से रेगुलेटर का मॉडल तैयार करने पर कार्य किया जा रहा है। जल्द ही हम अपने राज्य में ही रेगुलेटर तैयार करने में सक्षम हो जाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि नेजल पाइप की उपलब्धता सुनिश्चित करने को लेकर हम लगातार प्रयासरत हैं। हफ्ते दिन के अंदर हम नेजल पाइप की आपूर्ति सुचारू रूप से कर सकेंगे।

जीवन रक्षक एंबुलेंस हर जिले में संचालित होगी

मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि आपके द्वारा राज्य के सभी जिलों में जीवन रक्षक एंबुलेंस कार्यरत रहने को लेकर सुझाव मिले हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह आवश्यक है कि प्रत्येक जिले में एक जीवन रक्षक एंबुलेंस चले। राज्य सरकार इस संबंध में जल्द कार्य योजना बना रही है ताकि सभी जिलों में एंबुलेंस उपलब्ध कराया जा सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में कोरोना संक्रमण से लोगों की मृत्यु कैसे कम हो इस पर सरकार लगातार नजर बनाए रखी है और आवश्यक उपाय किए जा रहे हैं।

खांसी, सर्दी और वायरल फीवर को हल्के में न लें

मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि जानकारी के अभाव में ग्रामीण क्षेत्रों में लोग खांसी, सर्दी तथा वायरल फीवर को हल्के में लेने की भूल कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने सभी सांसदों तथा विधायकों से अपील किया कि वे अपने-अपने क्षेत्र में लोगों को अधिक से अधिक कोरोना जांच कराने को लेकर जागरूक कराएं तथा अधिक से अधिक जांच हो यह सुनिश्चित करें। कोरोना संक्रमण में प्राथमिक उपचार ही कारगर है। सही समय पर कोरोना की पहचान हो और प्राथमिक उपचार सही हो तो मरीज जल्दी रिकवर हो रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी मरीजों को मेडिकल ऑक्सीजन ससमय उपलब्ध हो इस दिशा में भी सरकार तत्परता के साथ कार्य कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों के अस्पतालों में डॉक्टर तथा पैरामेडिकल स्टाफ की कमी न हो इस निमित्त राज्य सरकार नियुक्ति प्रक्रिया पर बल दिया है। जल्द ही राज्य में डॉक्टर,एएनएम, टेक्नीशियन इत्यादि की नियुक्ति होगी। मुख्यमंत्री ने सभी सांसदों और विधायकों से कहा कि अगर आपके क्षेत्र में कोई रिटायर्ड डॉक्टर सेवा देने के लिए तैयार हैं तो उनका नाम आप भेजें उन्हें जिम्मेदारी दी जाएगी।

इन्होंने रखे अपने महत्वपूर्ण विचार एवं सुझाव…

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन को पलामू सांसद बी डी राम, राजमहल सांसद विजय हांसदा, चतरा सांसद सुनील सिंह, दुमका सांसद सुनील सोरेन, झारखंड विधानसभा अध्यक्ष रबींद्र नाथ महतो, मंत्री आलमगीर आलम, मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर, मंत्री बादल, मंत्री हफिजुल हसन अंसारी, महेशपुर विधायक स्टीफन मरांडी, पांकी विधायक शशि भूषण मेहता, पोड़ैयाहाट विधायक प्रदीप यादव, बोरियो विधायक लोबिन हेंब्रम, मनिका विधायक रामचंद्र सिंह, बिश्रामपुर विधायक रामचंद्र चंद्रवंशी, जामताड़ा विधायक इरफान अंसारी, लातेहार विधायक वैद्यनाथ राम, राजमहल विधायक अनंत ओझा, हुसैनाबाद विधायक कमलेश कुमार सिंह, सारठ विधायक रणधीर कुमार सिंह, लिट़्टीपाड़ा विधायक दिनेश विलियम मरांडी, भवनाथपुर विधायक भानु प्रताप शाही, डाल्टनगंज विधायक आलोक कुमार चौरसिया, छत्तरपुर विधायक पुष्पा देवी, गोंडा विधायक अमित कुमार मंडल, दुमका विधायक बसंत सोरेन, देवघर विधायक नारायण दास ने अपने महत्वपूर्ण विचार एवं सुझावों से अवगत कराया।
बैठक में मुख्यमंत्री आवासीय कार्यालय से राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता, मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, विकास आयुक्त सह अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य विभाग अरुण कुमार सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का, नगर विकास सचिव विनय कुमार चौबे सहित अन्य उपस्थित थे।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: