January 24, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कृषि के आधारभूत संरचनाओं को दुरूस्त कर रही है सरकारः कृषि मंत्री

उन्नत कृषक और आधुनिक खेती सरकार का लक्ष्यः- उपायुक्त

देवघर:- देवघर जिले सारवां प्रखंड अंतर्गत एक दिवसीय किसान मेला सह कृषि प्रदर्शनी कार्यक्रम का विधिवत्त उद्घाटन दीप प्रज्जवलित कर कृषि, पशुपालन सहकारिता मंत्री बादल पत्रलेख, उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री व उपस्थित जनप्रतिनिधियों द्वारा संयुक्त रूप से किया गया। इस दौरान लोगों को संबोधित करते हुए कृषि मंत्री ने कहा कि किसानों के हित में सरकार लगातार बेहतर कदम उठा रही है। इस उद्देश्य से किसानों के हित में उनके आधारभूत संरचनाओं को ठीक करने के उद्देश्य से कृषि से संबंधित विभिन्न योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है। किसानों की आय बढ़ाने के लिए सरकार लगातार प्रयासरत है। इस दौरान उन्होंने कहा कि किसानों को लाभान्वित व जागरूक करने के लिए लगातार ऐसे कार्यक्रमों का आयोजन राज्य भर में किया जा रहा है। साथ हीं उन्होंने कृषि विभाग से संबंधित विभिन्न योजनाओं की जानकारी के साथ कृषकों से अपनी जरूरत के हिसाब से योजनाओं के लाभ लेने की बात कही। साथ ही उन्होंने कहा कि झारखंड सरकार ने करीब 9 लाख किसानों के 50000 रुपये तक की कर्ज राशि माफ करने का फैसला किया है। इसके लिए वर्तमान वित्तीय वर्ष में बजटीय आवंटन के अनुरूप दो हजार करोड़ रुपये खर्च किये जायेंगे। राज्य सरकार ने सबसे पहले छोटे किसानों को कर्ज माफी का लाभ देने का फैसला लिया है और आगे दूसरे और तीसरे चरणों में एक लाख रुपये और दो लाख रुपये तक के ऋण लेने वाले किसानों के भी कर्ज माफ करने का प्रयास किया जाएगा। इसके लिए मंत्रिमंडल ने किसानों की ऋण माफी के लिए 2,000 करोड़ रुपये के आवंटन को स्वीकृति भी प्रदान कर दी है। इस राशि से राज्य के सभी किसानों एवं मजदूरों के किसी भी बैंक से लिये गये 50 हजार रुपये तक के कृषि ऋण माफ किए जाएंगे।

इसके अलावे कार्यक्रम के दौरान उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी श्री मंजुनाथ भजंत्री ने कृषकों को संबोधित करते हुए कहा कि वर्तमान में परंपरागत खेती के साथ आधुनिक तकनीकों का उपयोग अवश्य करें। सरकार किसानों की सुविधा के लिए विभिन्न योजनाओं केसाथ लगातार बेहतर कदम उठा रही है। साथ ही उन्होंने किसानों से अपील करते हुए कहा कि किसी भी बिचौलियों के चक्कर मैं न पड़े और सीध पैक्स में अपना धान को दें। आपके हक का भुगतान आपको अवश्य किया जायेगा। धान अधिप्राप्ति को लेकर किसी भी प्रकार की समस्या होने पर जिला सहकारिता कार्यालय, जिला आपूर्ति कार्यालय व अंचल कार्यालय में संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावे उपायुक्त द्वारा जानकारी दी गई कि झारखंड सरकार ने सरकार गठन के एक वर्ष पूरे होने के पूर्व हुई कैबिनेट की बैठक में किसानों की ऋण माफी के लिए 2000 करोड़ के आवंटन को स्वीकृति प्रदान कर दी है। इस राशि से राज्य के सभी रैयत और गैर रैयत के 50 हजार रुपये तक के कृषि ऋण माफ होंगे, चाहे वह किसी भी बैंक से लिया गया हो। 31 मार्च 2020 तक ऋण लेनेवाले किसान ही इसके दायरे में आएंगे। साथ ही एक परिवार से एक ही व्यक्ति को इसका लाभ मिल सकता है। इसके एवज में आवेदन देनेवाले किसानों से एक रुपये सेवा शुल्क के तौर पर लिया जाएगा। कृषि मेला-सह-कृषि प्रदर्शनी को लेकर किसानों के द्वारा लाये गये प्रादर्श का निबंधन पूर्वाह्न 8ः00 बजे से 11ः00 बजे तक सारवां प्रखण्ड कार्यालय परिसर में किया गया। जिसके पश्चात निर्धारित चयन समिति द्वारा सब्जी, फल, फूल एवं विभिन्न फसलों की प्रदर्शनी में लगे फसलों की गुणवता व निर्धारित मापदण्ड को देखते हुए कृषि मंत्री द्वारा उन्नत कृषकों को पारितोशित एवं प्रशंसा पत्र वितरण किया गया। कृषि मेला सह कृषि प्रदर्शनी में कृषि एवं संबंधित विभागों द्वारा 12 से अधिक स्टॉल कृषकों की सुविधा हेतु लगाये गए थें। इस दौरान माननीय कृषि मंत्री श्री बादल पत्रलेख ने प्रदर्शनी का निरीक्षण कर कृषकों को बेहतर खेती व बेहतर उपज हेतु ढ़ेर सारी शुभकामनाएं व बधाई दी।

Recent Posts

%d bloggers like this: