अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

लाठी-डंडों से पिछड़ों की आवाज दबा नहीं सकती सरकार : गुप्तेश्वर ठाकुर

राँची:- आजसू पार्टी द्वारा निकाले गए सामाजिक न्याय मार्च के दौरान पुलिस द्वारा निहत्थे कार्यकर्ताओं पर किये गए बर्बरतापूर्ण लाठीचार्ज के विरोध में पिछड़ा विरोधी हेमंत सरकार का पुतला दहन किया गया हेमंत सोरेन का शव यात्रा मशीनों मोड़ से निकाला गया और रंका मोड़ पर जाकर पुतला दहन किया गया

आजसू पार्टी के केंद्रीय सचिव गुप्तेश्वर ठाकुर ने कहा कि कार्यकर्ताओं और समर्थकों पर सरकार ने जिस बर्बरता से बल प्रयोग किया, उसकी जितनी भी निंदा की जाए, उतनी कम है। झामुमो महागठबंधन की सरकार लाठी के दम पर पिछड़ों की आवाज को दबाना चाहती है लेकिन शायद वर्तमान सरकार यह भूल गयी है कि आजसू पार्टी संघर्ष की उपज है। दुनिया की कोई भी ताकत हमें चुप नहीं करा सकती।
गढ़वा रंका विधानसभा प्रभारी रविंद्र नाथ ठाकुर ने कहा कि आजसू पार्टी ने पूरे राज्य में सामाजिक न्याय मार्च कर लोगों से दस लाख स्मरण पत्र पर हस्ताक्षर लिया था और 6, 7 एवं 8 सितंबर को कोविड गाइडलाइंस का अनुपालन करते हुए आठ-आठ जिला के नेता, कार्यकर्ता और समर्थक स्मरण पत्र लेकर राँची कूच किये। शांतिपूर्ण ढंग से पिछड़ों की मांग को लेकर मोराबादी स्थित बापू वाटिका से मुख्यमंत्री सचिवालय निकले कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने लाठीचार्ज शुरु कर दी। इससे यह साबित होता है कि सरकार पिछड़ा विरोधी है लेकिन आज तो पार्टी हर हाल में पिछड़ों को उनका हक और अधिकार दिलाकर रहेगी इस तानाशाही सरकार को झुकने पर मजबूर किया जाएगा और पिछड़ों को 27 फ़ीसदी आरक्षण मिल कर रहेगा जिला सचिव डॉक्टर इश्तियाक रजा ने कहा कि हम लाठी और डंडों से डरने वाले नहीं हैं हेमंत सोरेन ने चिंगारी को हवा देने का काम किया है हमारा आंदोलन और तेज होगा मौके पर नगर मंडल अध्यक्ष रामाशंकर ब्रेजियर पूर्व किसान मोर्चा अध्यक्ष विजय कुमार मेहता मोहम्मद इकराम छात्र संघ के पूर्व उपाध्यक्ष राजेंद्र कुमार रवि छात्र संघ जिला अध्यक्ष अनुराग पासवान वरीय उपाध्यक्ष योगेंद्र पासवान चंदेश्वर कुमार बबलू विश्वकर्मा अनिल कुमार कुशवाहा शिवम कमलापुरी चंदन कुमार जितेंद्र कुमार रंजीता कुमारी बिंदा कुमारी बंसल श्याम नरेंद्र कुमार सिंह सहित अन्य लोग शामिल हुए

%d bloggers like this: