May 8, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

पूर्व सांसद अजय मारू ने पश्चिम बंगाल में चुनाव परिणाम के बाद हो रही हिंसा की कड़ी आलोचना की

रांची:- झारखंड से राज्यसभा के पूर्व सांसद अजय मारू ने पश्चिम बंगाल में चुनाव परिणाम के बाद हो रही हिंसा की कड़ी आलोचना की है। श्री मारू ने मंगलवार को यहां कहा कि यह पहला मौका है जब किसी पार्टी को पूर्ण बहुमत मिलने के बाद भी उनके समर्थकों के द्वारा हिंसा की जा रही है। उन्होंने कहा कि यह हिंसा पूर्ण रूप से बहुमत वाली पार्टी द्वारा प्रायोजित है। भाजपा के कार्यालय एवं उनके कार्यकर्ताओं के घरों में आग लगाई जा रही है तथा उनके साथ जुल्म किया जा रहा है और यह बहुत ही दुखद: है। श्री मारू ने कहा लोकतंत्र में चुनाव में हार जीत तो होती ही रहती है लेकिन दो तिहाई बहुमत हासिल करने के बावजूद तीसरी बार सत्ता में आ रही टीएमसी के द्वारा जिस तरह हिंसा की जा रही है उसे केंद्र सरकार एवं चुनाव आयोग को गंभीरता से लेनी चाहिए।उन्होंने कहा कि एक तरफ हिंसा जारी है और दूसरी तरफ पश्चिम बंगाल का प्रशासन विशेषकर पुलिस प्रशासन मूकदर्शक बनी हुई है। निश्चित रूप से पश्चिम बंगाल में इस तरह की हिंसा शर्मनाक कही जाएगी। श्री मारू ने कहा कि देश के अनेक राज्यों में चुनाव होते हैं और हार जीत होती रहती है लेकिन जिस तरह से पश्चिम बंगाल में हो रहा है, उससे पूरा देश स्तब्ध है।यहां तक की ममता बनर्जी को हराने वाले शुभेंदु अधिकारी की कार पर भी पथराव किया गया और पुलिस देखती रह गई। शायद भारतीय लोकतंत्र के इतिहास में कभी ऐसा नहीं हुआ था।चुनाव प्रचार के दौरान ममता बनर्जी के द्वारा जिस तरह से बिहार एवं उत्तर प्रदेश के लोगों को गुंडा कहा गया उससे उनकी ही छवि खराब हुई है. उन्होंने आशंका व्यक्त की है कि ममता बनर्जी के द्वारा तीसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद और भी हिंसा हो सकती है।उन्होंने कहा कि गृह मंत्रालय तत्काल प्रभाव से हिंसा करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए सख्त आदेश पारित करें। श्री मारू ने कहा कि आज पूरे देश में कोरोना से लोगों की मौतें हो रही है लेकिन पश्चिम बंगाल में हिंसा का दौर चल रहा है। प्रयास यह होना चाहिए पश्चिम बंगाल में कोरोना के बढ़ते कदम को रोकने के लिए राज्य सरकार को तत्काल पहल करनी चाहिए।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: