January 26, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

पहली बार झारखंड की सब्जियां चलीं विदेश, जल्द ही रांची एयरपोर्ट से कार्गो के माध्यम से सब्जियां विदेश भेजी जाएगी : कृषिमंत्री

रांची:- झारखंड से पहली बार किसानों द्वारा उत्पादित हरी सब्जियों का निर्यात बाजार समिति, रांची के माध्यम से किया जा रहा है। कृषि, पशुपालन, मत्स्य एवं सहकारिता मंत्री बादल पत्रलेख ने हरी झंडी दिखा कर नगड़ी के किसानों द्वारा उत्पादित कृषि उत्पाद को कोलकाता एयरपोर्ट के लिए रवाना किया, जहां से झारखंड की सब्जियां पहली बार विदेश के लिए रवाना होगी, इन सब्जियों को दुबई भेजा रहा है।
कृषिमंत्री ने गुरुवार सुबह सात बजे रांची के नगड़ी प्रखंड के नारो बाजार से विदेशों तक सब्जी निर्यात करने की योजना की शुरुआत की। उन्होंने कहा कि रांची-जमशेदपुर समेत अन्य जिलों की सब्जियों को विदेशों में भेजे जाने के लिए क्वालिटी टेस्टिंग की प्रक्रिया पूरी की जा चुकी है। उन्होंने बताया कि इन सब्जियों को कोलकाता की जगह रांची से ही विदेशों के लिए भेजे जाने के लिए कार्गा बुकिंग की जा रही है, जल्द ही रांची एयरपोर्ट से ही सब्जियों को सीधे विदेश भेजे जाने की तैयारी की जा रही है। कृषि मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार किसानों की स्थिति में सुधार लाने के लिए कृषि नीति और कृषि निर्यात नीति समेत विभिन्न पहलुओं पर कार्य योजना बना रही है। उन्होंने बताया कि एयरपोर्ट अथॉरिटी से बातचीत चल रही है,ताकि कोलकाता की जगह रांची से ही सब्जियों को विदेशों भेजा जा सकेगा, इससे किसानों के उत्पादन लागत में कमी आएगी और उन्हें ज्यादा से ज्यादा मुनाफा मिल सकेगा। बादल ने कहा कि राज्य सरकार अभी वैश्विक महामारी कोरोना वायरस कोविड-19 से निपटने के लिए प्रयासरत है, काफी हद तक इस संकट से निपटने में सफलता मिलेगी। इसके बाद किसानों को अधिक से अधिक लाभ दिलाने के लिए नयी कृषि नीति भी तैयार हो चुकी है। कृषि मंत्री ने कहा कि यह चुनावी वर्ष नहीं है, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के नेतृत्व में गठित सरकार को पहले ही वर्ष में खजाना खाली मिला था, इसके बावजूद गठबंधन सरकार किसानां के हित के लिए आवश्यक कदम उठाने के लिए प्रत्यनशील है। यह सरकार किसानों को सिर्फ वोट बैंक नहीं मानती है, बल्कि किसानों-मजदूरों के साथ उनके सुख-दुख का रिश्ता है।
झारखंड से पहली बार नगड़ी के किसानों द्वारा उत्पादित हरी सब्जियां भिंडी, झिंगी, कच्चू, बोदी, खेक्सा, लौकी, करेला, फ्रेंचबीन और कुंदरी का निर्यात बाजार समिति रांची के माध्यम से किया जा रहा है। बाजार समिति के पणन सचिव अभिषेक आनंद ने बताया कि ये सब्जियां प्लेन से कोलकाता से दुबाई भेजी जाएगी। जल्द ही अन्य देशों में भी ये सब्जियां भेजी जाएगी। इस मौके पर उपस्थित किसानों ने बताया कि पूर्व में किसान औने-पौने दाम में अपनी सब्जियों को बेचने के लिए मजबूर होते थे, लेकिन पहली बार सब्जियां विदेशों में भेजी जा रही है, इससे किसानों को उनका पूरा मेहनताना मिल सकेगा और मुनाफा होने से उनका उत्साह भी दोगुना बढ़ेगा। किसानों ने बिजली, खाद-बीज और पानी की समस्या दूर करने में सरकार से सहयोग का आग्रह किया।

Recent Posts

%d bloggers like this: