January 18, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

किशनगंज में बाढ़ का पानी जगह- जगह घुसा, लोग सुरक्षित ठिकाने की तलाश में और प्रशासन तत्पर

किशनगंज:- किशनगंज में महानंदा, कनकई , मेची एवं डौक नदी सहित सहायक नदियों का जलस्तर यहां के लोगों के लिए परेशानी का सबब बन गया है ।कोचाधामन, दिघलबैंक , बाहदुगंज, पोठिया एवं टेढ़ागाछ आदि सहित यहां के सभी प्रखंडो के निचले क्षेत्रों में में बाढ़ का पानी जगह- जगह घुसने से परेशान लोग पलायन करने पर मजबूर हो चुके हैं ।

स्थानीय जिला पदाधिकारी डाॅ आदित्य प्रकाश ने जारी रिपोर्ट में कहा कि महानंदा नदी बाढ़ के हाई लेवल ( एचएफएल – 67.22मीटर ) के करीब 66.84मीटर पर है । कनकई चरघरिया नदी के जलस्तर (एचएफएल 48.00 मीटर ) के करीब 46.95 मीटर एवं नेपाल सीमा में मेची नदी का जलस्तर ( एचएफएल 83.66 मीटर ) के करीब 80.58 मीटर पर मंगलवार सुबह तक था। लगातार हो रही बारिश मानो आग में घी डालने का काम कर रही हो।अब तक 28.2मिलीमीटर बारिश हो चुकी है। महानंदा बैराज से 208.378 क्यूमेक एवं डौक बैराज से 112.619 क्यूमेक पानी छोड़ा गया है। जिसके कारण स्थानीय जिले के सभी प्रखंडो के निचले क्षेत्रों में बाढ़ का पानी प्रवेश करने लगा है। उन्होंने कहा कि संबंधित विभाग के अधिकारियों की कड़ी निगरानी में बाढ़ से बचाव हेतु एनडीआरएफ दल के पेट्रोलिंग कर प्रभावित क्षेत्र में लोगों रेसक्यू कर सुरक्षित चिन्हित स्थलों पर पहुँचाने में लगे हुए हैं । जिले के लोगों को भी लगातार सतर्क किया जा रहा है । मछुआरों एवं नाविकों को भी नदियों में जाने से रोका जा रहा है। राहत पहुँचाने हेतु संबंधित विभाग के अधिकारी अपनी तैयारी में जगह- जगह की जुटे हुए हैं । डी एम डाॅ प्रकाश ने जिला के लोगों को आगाह कर कहा कि किसी भी अफवाह से बचें प्रशासन की पुरी टीम प्रभावित क्षेत्रों में तत्पर हैं । हर पल-पल की प्रशासन के जारी रिपोर्ट पर सतर्क व सावधान रहें ।

संवाददाता सुबोध

Recent Posts

%d bloggers like this: