अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

दहीबाड़ी परियोजना में भड़की आग, विरोध में बुलडोजर के सामने खड़े हुए ग्रामीण

धनबाद:- बीसीसीसीएल सीवी एरिया की सी पैच दहीबाड़ी आउटसोर्सिंग के पास गुरुवार-शुक्रवार की रात दो से तीन बजे के बीच अचानक आग भड़ गई। आसमान में दूर-दूर तक आग की लपटें उठने लगीं। चारों तरफ धुएं का गुब्बार छा गया। अभी भी आग लगी हुई है। शुक्रवार की सुबह लोगों को घटना की जानकारी हुई। प्रबंधन आग पर काबू पाने के लिए प्रयासरत है। दूसरी तरफ आग से स्थानीय बस्ती के लोग दहशत में हैं। वे बीसीसीएल प्रबंधन से मुआवजा की मांग कर रहे हैं।

दहीबाड़ी प्रोजेक्ट सी पैच आउटसोर्सिंग में ट्रेंच कंटिंग की गई थी। उसी स्थान पर आग भड़की है। यहां पहले बीसीसीएल का सुशील इंक्लाइन था। वर्ष 2013 में दुर्घटना हुई थी। प्रबंधक अरूप चटर्जी सहित तीन मजदूरों की मौत हो गई थी। उसके बाद डीजीएमएस ने खदान को बंद कर दिया। लंबे समय के बाद बीसीसीएल प्रबंधन ने वहां आउटसोर्सिंग के माध्यम से ओपेन कास्ट खदान खोला है।

आग लगने के बाद स्थानीय ग्रामीण दहशत में हैं। उनकी जान और घर सबकुछ खतरे हैं। उनपर घर छोड़कर चले जाने का दबाव है। ग्रामीण चाहते हैं कि उन्हें प्रबंधन उचित मुआवजा दे। इसके बाद वे घर को खाली करेंगे। मुआवजा की लेकर प्रबंधन का विरोध कर रहे हैं। घरों से निकल कर बस्ती की महिलाएं और बच्चे प्रोजेक्ट में पहुंच गए हैं। वे बुलडोजर के सामने खड़े होकर आग बुझाने का विरोध कर रहे हैं।

प्रबंधक सुब्रतो मंडल का कहना है कि आग की सूचना मिली है। फिलहाल तीन गैलरी से आग निकल रही है। बसंती माता फायर पैच है। आग को हवा के संपर्क से अलग करने के लिए मिट्टी डाली जा रही है। वहीं मासस नेता गोरा धीवर व मिलन शर्मा का कहना है कि आग के कारण मुंडा धौड़ा के समीप की दुकानों को खतरा है। प्रबधंन जल्द इनलोगों को अन्यत्र शिफ्ट करें।

%d bloggers like this: