April 18, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

अवैध उत्खनन को लेकर 13 बालू माफिया के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज, सरकार को 6 लाख से अधिक राजस्व का हुआ है नुकसान

बांका:- जिले में अवैध बालू उत्खनन पर रोक लगाने के लिए जिला प्रशासन की और से लगातार कार्रवाई की जा रही है। साथ ही बालू माफिया पर भी नकेल कसने के लिए छापेमारी के साथ-साथ प्राथमिकी भी दर्ज कराई जा रही है। इसी कड़ी में बालू घाटों से अवैध तरीके से उत्खनन की लेकर 13 बालू माफिया पर खान निरीक्षक से प्राप्त आवेदन के आधार पर शनिवार की देर शाम धोरैया थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है। धोरैया थानाध्यक्ष महेश्वर प्रसाद पासवान ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि खान निरीक्षक के साथ 1 मार्च को धोरैया के बलमचक, फत्तूचक, करहरिया एवं सगुनिया बालू घाट पर बालू के अवैध खनन एवं प्रेषण की सूचना मिलने पर सत्यापन के लिए जांच की गई थी। जो कि सही पाया गया। उसके बाद शनिवार को नामजद प्राथमिकी दर्ज की गई है।

इन बालू माफियाओं के विरुद्ध दर्ज हुई है प्राथमिकी
थानाध्यक्ष ने बताया कि नामजद प्राथमिकी में धोरैया थाना क्षेत्र के अलावा झारखंड के गोड्डा जिले भी बालू माफिया शामिल हैं। खान निरीक्षक ने धोरैया थाना क्षेत्र के बलमचक गांव निवासी मो. निजाम, मो. रईस, मो. जलील, मो. सोभी, मंटू मंडल, राजू मंडल, तेज नारायण पासवान के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराया है इसके अलावा लौंगाय निवासी कैलाश मंडल और झारखंड के गोड्डा जिला अंतर्गत विश्वासखानी निवासी धर्मेंद्र मंडल, दीपक मंडल, राहुल मंडल तथा गाजीचक गांव निवासी उपेंद्र मंडल व कौशल कुमार के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। बालू माफिया की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी में जुट गई है। अवैध रूप से बिना परिवहन चालान के उत्खनित बालू लोड कर परिवहन करना विभागीय आदेशों के उल्लंघन के तहत दंडनीय एवं अपराध है। धोरैया थानाध्यक्ष महेश्वर प्रसाद राय ने बताया कि बालू घाटों से अवैध उत्खनन करने वालों को किसी सूरत में नहीं बख्शा जाएगा।

6 लाख 27 हजार 835 रुपए की राजस्व की हुई है क्षति

थानाध्यक्ष ने महेश्वर प्रसाद पासवान ने बताया कि बलमचक क्षेत्र में 4 हजार 200 घनफीट बालू का अवैध खनन किया गया है। जिसका खनिज स्वामिस्व व दंड के रूप में कुल 1 लाख 86 हजार 946 की राजस्व क्षति हुई है। करहरिया क्षेत्र में मापोपरांत 4 हजार 725 घनफीट बालू का अवैध खनन किया गया है। जिसका खनिज स्वामिस्व व दंड के रूप में कुल 2 लाख 9 हजार 64 रुपए है। वहीं सगुनिया में 5 हजार 250 घनफीट बालू का अवैध खनन किया गया है। जिसका खनिज स्वामिस्व व दंड के रूप में कुल 2 लाख 31 हजार 825 रुपए बताया गया है। थानाध्यक्ष ने बताया कि कुल 6 लाख 27 हजार 835 रुपए की राजस्व की क्षति है जो बालू माफियाओं से वसूला जाएगा।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: