January 23, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

किशनगंज के भारत – नेपाल सीमा पर मेची नदी का जलस्तर घटते ही कटाव से प्रभावित किसान

किशनगंज:- इण्डो -नेपाल सीमा पर अवस्थित किशनगंज जिले के टेढ़ागाछ प्रखंड अंतर्गत मटियारी पंचायत में बाढ़ का पानी घटते ही मेची नदी ने भूमि कटाव का तांडव शुरू कर दिया है और वहाँ के भयभीत स्थानीय किसान अपने अस्तित्व व भूमि को जुगाड़ से बचाने की जुगत में रात दिन एक कर दिया है। तथा नदी के कटाव से विस्थापित करीब 60 /65 किसानों की शिकायत मिलने पर जिला पदाधिकारी डाॅ आदित्य प्रकाश ने सोमवार को संबंधित विभाग के अधिकारियों को उचित कार्रवाई हेतु तुरंत निर्देशित किया है।

मामले में डी एम डाॅ प्रकाश ने कहा कि संबंधित विभाग के कार्यपालक पदाधिकारी को नेपाल सीमा पर अवस्थित टेढ़ागाछ प्रखंड अंतर्गत मटियारी पंचायत में मेची नदी के कटाव ग्रस्त क्षेत्र में संबंधित विभाग के कार्यपालक पदाधिकारी को स्थल निरीक्षण कर अति शीघ्र उचित संसाधनों से कटाव रोधी कार्य करने हेतु निर्देश दिया है और नदी से विस्थापित हुए परिवार की सूची तैयार कर उनके खाते में प्रति परिवार को राहत राशि 6000 हजार रुपये राजस्व विभाग के अधिकारी को हस्तांतरित करने का आदेश भी दे दिया है। इसके साथ ही उन प्रभावित क्षेत्र के सभी परिवारों को सुखा राशन तत्काल जीवन- यापन के लिए उपलब्ध कराने का निर्देश स्थानीय बीडीओ एवं सी ओ को दे दी गई है ।

ज्ञात हो कि जिले के क्षेत्रीय जिला पार्षद उपाध्यक्ष खोशी देवी स्थानीय प्रभावित किसानों से रविवार को मुलाकात कर उनके बीच कुछ राहत सामग्री का वितरण भी किया तथा यह आश्वासन दिया कि स्थानीय किसानों की समस्याओं से जिला पदाधिकारी को अवगत कराते हुए अविलम्ब राहत की मांग की जायेगी। तत्पश्चात खोशी देवी ने प्रभावित क्षेत्र के किसानों के हालात की जानकारी डी एम दी। तदोपरांत डी एम डाॅ प्रकाश ने संबंधित विभाग के अधिकारियों को उचित दिशा निर्देश जारी किया है ।

संवाददाता सुबोध

Recent Posts

%d bloggers like this: