अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

जंगल में मिला पूर्व मुखिया का शव, आत्महत्या की आशंका


सिमडेगा:- सिमडेगा सदर प्रखंड की अरानी पंचायत की पूर्व मुखिया शांति टेटे ने कीटनाशक पीकर आत्महत्या कर ली। शांति टेटे के खिलाफ मुखिया पद पर रहते हुए इंदिरा आवास की सरकारी राशि में गबन का आरोप लगा था। यह भी आरोप था कि उन्होंने अपने पति के साथ मिलकर इंदिरा आवास दिलाने के नाम पर लाभुक से राशि ठगी थी। इसकी प्राथमिकी सदर थाने में दर्ज थी। बताया गया कि वह कुछ दिनों से रांची में रह रही थीं। आज सरईपानी जंगल में गहरा नाला के पास ग्रामीणों ने एक महिला का शव पड़ा देखा।  घटना की जानकारी सदर पुलिस को दी गई। सदर थाना प्रभारी दयानंद कुमार ने शव के पास से जहर की एक शीशी बरामद की। महिला की पहचान शांति टेटे के रूप में हुई। मृतका सदर थाना क्षेत्र के पिंडाटांगर गांव की रहने वाली थी। सदर थाना प्रभारी ने बताया कि राशि गबन और ठगी के आरोप में वह तीन बार जेल भी जा चुकी थी। बताया कि सदर प्रखंड के तत्कालीन बीडीओ बंधन लोंग की शिकायत पर प्राथमिकी दर्ज किए जाने और अदालत द्वारा दोष सिद्ध होने बाद उनका मुखिया पद भी चला गया था। जिससे परिवार तनाव में था। शांति टेटे का पति रविन्द्र टेटे अब भी फरार है। वहीं  मृतका के पुत्र  राहुल टेटे की शिकायत पर अस्वाभाविक मौत का मामला दर्ज कर छानबीन कर रही है। पुलिस को मृतका के पास से  रांची से सिमडेगा चलने वाली संजय बस की टिकट मिला है। मृतका के पुत्र ने भी पुलिस को बताया कि उसकी मां रांची में रह रही थी। इधर बस की टिकट मिलने से यह संभावना जताई जा रही है कि वह बस से रांची से सिमडेगा आई होगी। इसके बाद घर पहुंचने से पहले ही सरईपानी में उतरकर कीट नाशक पीकर उन्होंने अपनी इहलिला समाप्त कर ली होगी।

%d bloggers like this: