अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

रबड़ उद्योग में कौशल विकास पर जोर


नयी दिल्‍ली:- रबड़, केमिकल एंड पेट्रोकेमिकल कौशल विकास परिषद (आरसीपीएसडीसी) रबड़ उद्योग में कौशल विकास पर जोर दे रहा है। आरसीपीएसडीसी के प्रबंध निदेशक विनोद टी साइमन ने सप्ताहांत में आयोजित एक समीक्षा बैठक में कहा कि उद्योग में मौजूद कौशल की आवश्‍यकता एवं स्थिति को समझने के लिए 21 राज्यों में एक अध्ययन किया गया है। इसी के आधार पर आरसीपीएसडीसी ने बड़े पैमाने पर कौशल प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू किया, जिसके तहत रबड़ पौधारोपण, टायर और गैर-टायर क्षेत्रों में करीब डेढ़ लाख लोगों को प्रशिक्षित किया जा चुका है और यह लगातार जारी है। उन्होंने बताया कि पौधारोपण के महत्व और इस क्षेत्र में कौशल एवं पुन: कौशल को लेकर भारतीय रबड़ बोर्ड सहित अन्‍य पक्षों के साथ बैठक की गई। इसमें रबड़ के क्षेत्र में कौशल विकास पर ध्यान केंद्रित करने की योजना तैयार की गयी। भारतीय रबड़ बोर्ड के वैज्ञानिक डॉ. उमेश चंद्रा ने रबड़ पौधारोपण के महत्व पर जोर दिया और कहा कि यह पर्यावरण के अनुकूल है। उन्होंने कहा कि रबड़ पौधारोपण का पर्यावरण पर कोई नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ता है।

%d bloggers like this: