अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

आठ टीपीसी नक्सली गिरफ्तार, एके 56 समेत कई हथियार जब्त

जमीन कारोबारी बबलू मुंडा पर हुए हमले का खुलासा



रांची:- रांची के कांके थाना क्षेत्र के बोरैया थाना क्षेत्र से पुलिस ने उग्रवादी संगठन तृतीय प्रस्तुति कमेटी (टीपीसी) के आठ सक्रिय सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है। इनके पास से एके-56 के अलावा तीन पिस्तौल, 10 कारतूस, 1.62लाख नकद, फायरिंग में इस्तेमाल गाड़ी, 10 मोबाइल और एक मोटरसाईकिल भी बरामद किया गया है।
रांची के वरीय पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र कुमार झा ने रविवार को संवाददाता सम्मेलन में बताया कि कांके इलाके में कुछ दिन पहले जमीन कारोबारी बबलू मुंडा पर जानलेवा हमला हुआ था. इस हमले के पीछे टीपीसी के उग्रवादियों का नाम सामने आया था. घटना के दिन उग्रवादियों ने एक बोलेरो गाड़ी का इस्तेमाल किया गया था. सीसीटीवी फुटेज के आधार पर बोलेरो का सत्यापन किया गया और मामले की जांच की गई तो पता चला कि बोलेरो कांटा टोली स्थित एक गैरेज में रखा हुआ है. पुलिस गैरेज मालिक के पास पहुंची तो पता चला कि वहां काम करने वाले मैकेनिक इकराम उल अंसारी 29 सितंबर को शादी में जाने की बात बोलकर गाड़ी को लेकर गया था. पुलिस ने इकरामुल को पकड़ा तो पता चला कि इरफान अंसारी के कहने पर उसने गाड़ी लाई थी. इसके बाद एकरामुल के निशानदेही पर शहर के अलग-अलग इलाकों से 8 उग्रवादियों को गिरफ्तार किया गया. पूछताछ के क्रम में उन्होंने स्वीकार किया है कि बबलू मुंडा की हत्या के नियत से वह आए थे। इसके बदले उन्हें टीपीसी के उग्रवादी भीखन के द्वारा एके-56 और 10 लाख रुपए दिया गया।
पुलिस को यह भी जानकारी मिली है कि 3 फरवरी 2020 को बरियातु थाना क्षेत्र के मोरहाबादी मैदान स्थित पार्क प्राइम होटल के समीप प्रेम सागर मुंडा की हत्या में भी भीखन गंझू, नीरज भोक्ता, इरफान अंसारी और अफरोज अंसारी की संलिप्तता रही है।

%d bloggers like this: