May 11, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

दुर्ग : पावर एंड ब्लोइंग स्टेशन दो के कंट्रोल रूम में इमरजेंसी बटन बंद करने वाले चारों आरोपित गिरफ्तार

दुर्ग / भिलाई नगर:- भिलाई इस्पात संयंत्र के 25 मेगा वाट क्षमता के पावर एंड ब्लोइंग स्टेशन दो के स्टीम टर्बो जनरेटर नंबर चार के कंट्रोल रूम में चोरी से प्रवेश कर इमरजेंसी बटन के कवर को तोड़कर बटन बंद करने वाले चार आरोपितों को भट्टी पुलिस ने सोमवार सुबह गिरफ्तार कर लिया है।
भट्टी थाना प्रभारी भूषण एक्का ने बताया कि प्रार्थी के. प्रेम कुमार (57) निवासी भिलाई प्रगति नगर रिसाली बीएसपी के रिपोर्ट पर ,रविवार की देर रात चारों आरोपितों में सुनील कुमार शर्मा, ब्रजेश कुमार सिंह, उमेश कुमार दास और निशांत सूर्यवंशी के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया था। सोमवार को भट्टी पुलिस द्वारा कार्यवाही करते हुए चारों ही आरोपितों की गिरफ्तारी कर ली गई है।
उल्लेखनीय है कि वेतन समझौता नहीं होने से नाराज आंदोलित युवा कर्मियों के द्वारा 24 अप्रैल के प्रातः सात बजे के आसपास ,पावर एंड ब्लोइंग स्टेशन दो के स्टीम टर्बो जनरेटर नं. चार के इंचार्ज कार्तिक राम भगत (आपरेटर कम्प टेकनिशियन) जिसकी रात्रि कालीन ड्यूटी थी । उस दौरान आरोपित सुनील कुमार शर्मा, ब्रजेश कुमार सिंह, उमेश कुमार दास और निशांत सूर्यवंशी के द्वारा सुबह सुनियोजित तरीके से ज़बरदस्ती इकाई में अनाधिकृत तरीके से स्टीम टर्बो जनरेटर नं. 04 कन्ट्रोल रूम के अंदर संरक्षित क्षेत्र में चोरी से प्रवेश किया। रोके जाने के बावजूद उन लोगों ने इमरजेंसी बटन के कवर को तोड़ कर स्विच बंद करके चले गये, जिससे एस टी जी-4 इकाई का पूरा ऑपरेशन बंद हो गया।
पावर एंड ब्लोइंग स्टेशन दो में 25 मेगावाट बिजली का उत्पादन होता है। जहां से ऑक्सीजन प्लांट, ब्लास्ट फर्नेश आदि को प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष तौर पर विद्युत का प्रवाह होता है। ऑक्सीजन प्लांट, ब्लास्ट फर्नेश आदि को नुकसान होने सी सम्भावना थी। कोविड-19 संक्रमण बीमारी के समय भिलाई स्टील प्लांट छत्तीसगढ़ राज्य के अलावा अन्य राज्यो में ऑक्सीजन सप्लाई कर रहा है। उपरोक्त आरोपितों द्वारा जानबूझकर केन्द्र सरकार की सार्वजनिक उपकरण भिलाई इस्पात संयंत्र को बड़े नुक़सान में डालने के लिए तथा विद्युत आपूर्ति और वर्तमान समय के महामारी कोविड -19 के समय में देश के अति महत्वपूर्ण सार्वजनिक उपकरण को क्षति पहुँचाने के उद्देश्य से उक्त कर्मचारियों के द्वारा यह कुकृत्य किया गया। जिसके बहुत भयावह परिणाम इस कोविड समय में हो सकते थे । इनकी इस हरकत से बायलर के स्टीम लाइन में विस्फोट भी हो सकता था। फिलहाल पुलिस आरोपितों के खिलाफ अपराध दर्ज कर आगे की कार्रवाई में जुटी है ।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: