June 19, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

हेमंत सरकार के अथक प्रयास से स्थिति नियंत्रित हुई,सतर्कता जरूरी-कांग्रेस

रांची:- झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे,लाल किशोरनाथ शाहदेव और डॉ0 राजेश गुप्ता छोटू ने कहा कि कोरोना संक्रमण के फैलाव पर अंकुश को लेकर राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में डोर-टू-डोर मेडिकल स्क्रीनिंग का व्यापक अभियान चलाया गया। इस अभियान से यह साबित हो गया है कि राज्य के 80 से 85 फीसदी गांवों में कोरोना का खतरा नहीं है। इसके बावजूद अभी कोविड-19 का खतरा टला नहीं है, इसलिए सभी एहतियाती कदम उठाये जाने और सतर्कता बरते जाने की जरूरत है।
प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे ने कहा कि राज्य में इंटेसिव पब्लिक हेल्थ सर्वेक्षण अभियान (आईपीएचएस) के तहत 44 लाख से अधिक घरों में डोर- टू-डोर सर्वे का काम हुआ, जिसमें 2.44 करोड़ से अधिक लोगों की मेडिकल स्क्रीनिंग हुई। इस मीडिकल स्क्रीनिंग कार्यक्रम के दौरान सिर्फ 920 कोरोना संक्रमित मरीज मिले। यह आंकड़ा यह दर्शता है कि हेमंत सोरेन ने कोरोना संक्रमण के दूसरे वेब को ग्रामीण क्षेत्रों तक पहुंचने से रोकने में में काफी हद तक कामयाबी हासिल की।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता लाल किशोरनाथ शाहदेव ने कहा कि केंद्र सरकार से अपेक्षित सहयोग नहीं मिलने के बावजूद मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और प्रदेश अध्यक्ष सह वित्तमंत्री डॉ0 रामेश्वर उरांव, विधायक दल के नेता सह ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम, स्वास्थ्यमंत्री बन्ना गुप्ता और कृषि मंत्री बादल के नेतृत्व में ना सिर्फ लोगों को हरसंभव स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करायी गयी, वहीं सभी जरूरतमंद परिवारों को राशन और गांव-गांव में रोजगार की सुविधा भी मुहैय्या करायी गयी।
इस मौके पर प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता डॉ0 राजेश गुप्ता छोटू ने कहा कि कोरोना संक्रमण के पहले और दूसरेवेब में राज्य सरकार का प्रयास सराहनीय रहा, इसके बावजूद अभी तीसरे लहर की चेतावनी के बीच खतरा बरकरार है। इसलिए वैक्सीनेशन के काम में अब तेजी लायेजाने की जरूरत है, ताकि खतरों को कम से कम किया जा सके।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: