अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बरही अनुमंडलीय व्यवहार का संचालन अब तक हजारीबाग में होने से लोगों को हो रही है परेशानी


रांची:- हजारीबाग जिला अंतर्गत बरही अनुमंडल मुख्यालय में न्यायालय वर्ष 1994 से ही अस्तित्व में आ गया, लेकिन अब तक इसे व्यवहार न्यायालय का दर्जा प्राप्त नहीं हो सका है।
हालांकि विधि विभाग का कहना है कि 20सितंबर 2017 के आदेश से हजारीबाग जिला अंतर्गत बरही अनुमंडल में अनुमंडलीय न्यायिक दंडाधिकारी का एक तथा न्यायिक दंडाधिकारी प्रथम श्रेणी के अतिरिक्त शक्तियों के साथ सिविल जज जूनियर डिवजीन का एक न्यायालय तथा 12जून 2020 द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार 2 न्यायालय स्थापित हैं, जिन्हें बरही अनुमंडल में आधारभूत संरचना उपलब्ध होने तक हजारीबाग में बैठने की स्वीकृति प्रदान की जा चुकी है। जहां तक इन न्यायालयों का संचालन प्रारंभ करने का प्रश्न है, तो इसके सुचारू संचालन के के लिए न्यायालय भवन और अन्य आधारभूत सरंचनाओं के साथ ही पदाधिकारियों-कर्मचारियों की नियुक्ति की आवश्यकता है।
न्यायालय भवन तथा आधारभूत संरचना निर्माण के लिए विधि विभाग की ओर से चार बार पत्र भी भवन निर्माण विभाग को लिखा जा चुका है। विधि विभाग का कहना है कि भवन निर्माण से न्यायालय आधारभूत संरचना के निर्माण कर्या पूर्ण होने की सूचना प्राप्त होने और पदाधिकारियों-कर्मचारियों के पदसृजन तथा नियुक्ति पूर्ण होने के बाद इन न्यायालय के संचालन का कार्य उच्च न्यायालय के दिशा-निर्देश पर प्रारंभ किया जा सकेगा।

%d bloggers like this: